छत्तीसगढ़ के बीजापुर में नक्सली और सुरक्षाबलों के बीच तीन दिनों तक चली मुठभेड़ के बाद सुरक्षाबलों ने करीब  15-20 नक्सलियों को मार गिराने का दावा किया है. इस लड़ाई में एक जवान के शहीद होने और दो के घायल होने की ख़बर है. पुलिस के मुताबिक माओवादियों के ख़िलाफ 3 दिनों तक ऑपरेशन चलाया गया. 100-150 की संख्या में नक्सलियों को घेरा गया था. खासबात ये थी कि पहली दफा माओवादी कोबरा जवानों की वर्दी में देखे गए. इस ऑपरेशन में सीआरपीएफ, डीआरजी, ज़िला बल और कोबरा के जवान शामिल थे. केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के आईजी देवेन्द्र चौहान ने

छत्‍तीसगढ़ के सुकमा जिले में अलग-अलग जगहों से 19 माओवादियों को गिरफ्तार किया गया है। इनमें से नौ कथित रूप से पिछले हफ्ते सीआरपीएफ जवानों पर हुए भयानक हमले में शामिल थे। सुकमा के अतिरिक्‍त पुलिस अधीक्षक जितेंद्र शुक्‍ला ने बताया कि छह माओवादी चिंतागुफा पुलिस स्‍टेशन इलाके से पकड़े गए, जबकि तीन अन्‍य चिंतालनर पुलिस स्‍टेशन क्षेत्र से गिरफ्तार किए गए।

रायपुर छत्तीसगढ़ के सुकमा जिले में नक्सलियों के हमले में सीआरपीएफ के 26 जवान शहीद हो गए हैं. बताया जा रहा है कि सुकमा में चिंतागुफा के पास नक्सलियों ने घात लगाकर सीआरपीएफ की टीम पर हमला किया. यह घटना सोमवार दोपहर डेढ़ बजे की है. बताया जा रहा है कि सीआरपीएफ की 74वीं बटालियन रोड ओपनिंग के लिए निकली थी. इस दौरान नक्सलियों ने सीआरपीएफ की टीम पर हमला किया. सीआरपीएफ के अधिकारी ने बताया है कि नक्सलियों के साथ हुए एनकाउंटर में सीआरपीएफ के 26 जवान शहीद हो गए हैं और 6 जवान घायल हैं. इसमें सात जवान गंभीर रूप से