दिल्ली बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष और सांसद मनोज तिवारी के आवास पर कुछ अज्ञात लोगों ने रविवार की देर रात हमला कर दिया. 8 से 12 लोगों ने मनोज तिवारी के निजी सहायक अभिनव मिश्रा और उनके रसोइए के साथ मारपीट भी की. रात में 1:00 बजे के करीब जब यह वाकया हुआ उस समय मनोज तिवारी अपने घर में मौजूद नहीं थे, लेकिन जैसे ही उनके निजी सहायकों ने उन्हें सूचना दी कि 8 से 12 लोगों ने उनके घर पर हमला किया है तो वह फौरन अपने घर पर लौटे और उन्होंने नई दिल्ली के डीसीपी को फोन पर इसकी

दिल्ली एमसीडी चुनाव में 270 सीटों पर रुझान सामने हैं. अगर यही रुझान नतीजों में तब्दील होते हैं तो ये साफ है कि बीजेपी एमसीडी में जीक की हैट्रिक लगाने जा रही है. बहरहाल, इन रुझानों के लिए दिल्ली और देश के सियासी खिलाड़ियों के क्या मायने हो सकते हैं ये हम आपको बताते हैं. साल 2015 के विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी ने बीजेपी को करारी मात दी थी. ये वो वक्त था जब लोकसभा चुनाव के बाद प्रधानमंत्री मोदी की लोकप्रियता चरम पर थी. इसी जीत के दम पर कई विश्लेषकों ने आम आदमी पार्टी को विपक्षी पार्टी

एमसीडी चुनाव के बीच दिल्ली कांग्रेस को बड़ा झटका लगा है. पार्टी के दिग्गज नेता अरविंदर सिंह लवली कांग्रेस पार्टी छोड़कर बीजेपी में शामिल हो गए हैं. पार्टी अध्यक्ष अमित शाह की मौजूदगी में मंगलवार को उन्होंने बीजेपी की सदस्यता ग्रहण की और पार्टी में शामिल हो गए. अरविंदर सिंह लवली दिल्ली कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष रहे थे और पिछला विधानसभा चुनाव कांग्रेस ने लवली के नेतृत्व में ही लड़ा था. अरविंदर सिंह को दस जनपथ के भी बेहद करीब माना जाता था. लवली पूर्व सीएम शीला दीक्षित के बेहद करीबी और शीला सरकार में मंत्री भी रहे हैं. लवली