हिमाचल प्रदेश के कुल्लू में बादल फटने से बड़ा हादसा हुआ है। यहां सरगा पंचायत के थाड़े धार में  बादल फटने के बाद एक मकान ढह गया और  एक मकान के अंदर दो बच्चे दबे हुए हैं, जबकि कई मकानों को नुकसान पहुंचा है। मौके पर प्रशासन की टीम राहत और बचाव काम में जुट गई है।

कुल्लू जिला मुख्यालय से सटे रामशीला के पास एक कार बेकाबू होकर ब्यास नदी में जा गिरी। इस हादसे में एक व्यक्ति की मौत हो गई जबकि एक महिला के बहने की आशंका है। पुलिस के अनुसार रविवार दोपहर बाद मनाली से कुल्लू की तरफ आ रही एक कार अनियंत्रित होकर ब्यास नदी में जा गिरी। ाहादसे की सूचना फोरलेन का काम कर रहे मजदूरों ने पुलिस को दी। सूचना मिलते ही पुलिस समेत स्थानीय लोग मौके पर पहुंचे। तलाश के दौरान कुछ ही दूरी पर एक व्यक्ति का शव बरामद किया गया। कार को क्रेन से बाहर निकाला गया। कार

बेटे के लिए दूध गर्म कर रही महिला अचानक स्टोव फटने से बुरी तरह झुलस गई। इसका पति भी चपेट में आया। पीजीआई पहुंचने से पहले ही महिला ने दम तोड़ दिया। मामला हिमाचल के कुल्‍लू का है। यहां उपमंडल बंजार की चकुरठा पंचायत के पढ़ारनी गांव के साथ लगते खनोरी गांव में स्टोव फटने से झुलसी महिला की मौत हो गई। वहीं हादसे में घायल महिला के पति की हालात भी गंभीर बनी हुई है। उसे उपचार के लिए पीजीआई चंडीगढ़ के लिए रेफर कर दिया है। पुलिस ने मामला दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है।

एनएचपीसी की 800 मेगावाट की पार्वती जल विद्युत परियोजना चरण दो की टनल लीक होने से रैला पंचायत के ग्रामीणों में दहशत का माहौल है। वीरवार रात्रि को करीब चार गांवों के सौ से अधिक परिवारों ने घरों से बाहर खुले आसमान के नीचे ही रात गुजारी। रात भर ग्रामीणों ने पानी के बहाव को लेकर पहरा किया। हालांकि अभी तक परियोजना प्रबंधन की ओर टनल में पानी छोड़ना बंद नहीं किया गया है। जिससे ग्रामीणों में आक्रोश है। टेस्टिंग के दौरान परियोजना के पावर हाउस सिउंड को निकाली गई टनल लीक होने से रैला पंचायत भेबंल, शलाह, राइन तथा खडोहा