कश्मीर घाटी में तनाव को देखते हुए आज सभी स्कूल-कॉलेज को बंद रखने का आदेश दिया गया है. घाटी में इंटरनेट और मोबाइल सेवा को भी बंद कर दिया गया है. अलगाववादियों ने कल की तरह आज भी घाटी में विरोध-प्रदर्शन का एलान किया है. सोमवार को वहां पर भड़की हिंसा में 200 से ज्यादा छात्र घायल हुए हैं. श्रीनगर के श्रीप्रताप कॉलेज में छात्रों ने पथराव किया. इस दौरान पुलिस ने यहां आंसू गैस के गोले भी छोड़े. श्रीनगर में हुए विरोध प्रदर्शन में छात्राएं भी शामिल थीं.  इतना ही नहीं श्रीनगर के गांदरबल में पत्थर फेंक रहे स्कूली छात्रों

श्रीनगर कश्मीर में पत्थरबाजों से निपटने के लिए अब प्लास्टिक बुलेट्स का इस्तेमाल किया जाएगा. सूत्रों के मुताबिक गृह मंत्रालय ने पत्थरबाजों से निपटने के लिए सुरक्षाबलों को प्लास्टिक बुलेट्स का प्रयोग करने को कहा है. लाखों प्लास्टिक बुलेट्स कश्मीर भेजे गए हैं. मंत्रालय ने सुरक्षाबलों से कहा है कि पेलेट गन का इस्तेमाल अंतिम उपाय के रूप में किया जाए. बता दें, पेलेट गन्स की वजह से कश्मीर में सैकड़ों लोग अपनी आंखों की रोशनी गंवा चुके हैं. सुप्रीम कोर्ट भी इसका विकल्प तलाशने को कह चुका है. प्लास्टिक की बुलेट्स शरीर में नहीं धंसती हैं. इन्हें इंसास राइफल्स से फायर किया

दिल्ली एक न्यूज चैनल ने अपने स्टिंग में पाकिस्तान को लेकर बड़ा खुलासा किया है. इस स्टिंग में पता चला है कि पाकिस्तान कश्मीर के पत्थरबाजों को कैशलेस फंडिंग कर रहा है. न्यूज चैनल ने खुफिया सूत्रों के हवाले से दावा किया कि पाकिस्तान इन पत्थरबाजों को पैसा देने के लिए उसी वस्तु विनिमय प्रणाली का सहारा ले रहा है, जिसके जरिए लोग पहले व्यापार करते थे. वस्तु विनिमय प्रणाली में लोग एक सामान के बदले उसी कीमत के दूसरी सामान को लेते-देते हैं. कई ट्रक अक्सर पाक अधिकृत कश्मीर (पीओके) के मुजफ्फराबाद से श्रीनगर में सामान लेकर आते जाते हैं. इन्हीं