मध्य प्रदेश को लेकर कांग्रेस की तस्वीर काफी कुछ साफ होती दिख रही है। इसके तहत प्रदेश में अब कमलनाथ और ज्योतिरादित्य सिंधिया की जोड़ी मिलकर अगला विधानसभा चुनाव लड़ेगी। इस दौरान वरिष्ठता के चलते कमलनाथ की फिलहाल जो भूमिका तय की जा रही है, वह चुनाव के मुखिया (सीएम उम्मीदवार) की रहेगी, जबकि ज्योतिरादित्य सिंधिया को प्रदेश अध्यक्ष के रूप में मैदान में उतारा जा सकता है। पार्टी के वरिष्ठ नेताओं की मानें तो प्रदेश में कमलनाथ और सिंधिया दोनों ही बड़े और जिताऊ चेहरे हैं। ऐसे में पार्टी इनका पूरा इस्तेमाल करेगी। पार्टी का वैसे भी पूरा फोकस चुनाव