श्रीनगर भारतीय सेना ने रविवार को उत्तर कश्मीर के पुलवामा जिसे में स्थित माछिल सेक्टर में आतंकियों की घुसपैठ को नाकाम कर दिया है. सेना ने इस दौरान एक आतंकी को मार गिराया है. सेना के प्रवक्ता ने यह जानकारी दी. उन्होंने बताया कि घुसपैठ की कोशिश कर रहे एक आतंकी को सेना ने मार गिराया है. इलाके में सर्च ऑपरेशन जारी है. वहां और आतंकियों के छिपे होने और मारे जाने की आशंका है. पिछले 6 महीने में जम्मू कश्मीर में 100 से अधिक आतंकी मारे जा चुके हैं. गौरतलब है कि पिछले कुछ दिनों से सीमा पर तनाव का माहौल

पुलिस और सुरक्षाबलों की ओर से सीमा पार से आने वाले नशीले पदार्थों की तस्करी को रोकने के लिए समय-समय पर अभियान चलाया जाता है. शुक्रवार को बारामूला पुलिस और सुरक्षा बलों ने संयुक्त कार्रवाई के तहत भारत आ रहे एक ट्रक से 25 किलो नारकोटिक्स ड्रग्स जब्त किया है. यह ड्रग्स क्रॉस बॉर्डर ट्रेड के उद्देश्य से पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (PoK) से भारत भेजी जा रही थी. पुलिस ने आरोपी ट्रक ड्राइवर को गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस उससे पूछताछ कर रही है. बताते चलें कि बीते दिनों भी पंजाब में पाकिस्तान से आई हेरोइन की खेप को बरामद किया गया

पाकिस्तान अपनी नापाक हरकतों से बाज नहीं आ रहा है। पाकिस्तानी सैनिकों का एलओसी पर सीजफायर का उल्लंघन जारी है। राजौरी के सुंदरबनी में हुई भीषण गोलीबारी में भारतीय सेना का एक जवान शहीद हो गया जबकि एक अन्य जवान के घायल होने की खबर है। भारतीय सेना पाकिस्तान को मुंहतोड़ जवाब दे रही है। बताया जा रहा है कि भारतीय सेना की गोली बारी में पाकिस्तान को भारी नुकसान हुआ है। आपको बता दें कि इस महीने पाकिस्तान ने अठाहर बार सीजफायर का उल्लंघन किया है। इस दौरान नौ भारतीय जवान शहीद हो गए जबकि दो नागरिकों की मौत हो

जम्मू-कश्मीर में अमरनाथ यात्रा पर हुए आतंकी हमले के बाद हरियाणा में भी हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है। सावन का महीना लग चुका है. धर्मनगरी हरिद्वार से हरियाणा के रास्ते विभिन्न राज्यों में अब कांवड़ियों का आना-जाना शुरू हो चुका है, जिसके चलते सुरक्षा व्यवस्था की जानी जरूरी थी। सूबे में हाई अलर्ट जारी हुआ और एक-दो जगह को छोड़कर चप्पे-चप्पे पर पुलिस तैनात कर दी गई है. बता दें कि सोमवार रात को जम्मू-कश्मीर में आतंकी हमले में गुजरात के रहने वाले 7 लोग मारे गए, जो अमरनाथ यात्रा पर निकले थे. इस घटना के बाद पुलिस के कान खड़े

कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के दावों को धता बताते हुए आतंकियों ने सोमवार रात करीब साढ़े आठ बजे जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग जिले के बटेंगू में अमरनाथ तीर्थयात्रियों पर हमला कर गुजरात के सात यात्रियों की जान ले ली। बाइक से आए आतंकी गुजरात के वलसाड़ से आए तीर्थयात्रियों की बस पर अंधाधुंध गोलियां बरसा कर भाग निकले। हमले में 32 लोग घायल हुए हैं, जिनमें पांच पुलिसकर्मी हैं। अमरनाथ यात्रियों पर इससे पहले 1 अगस्त 2000 को बड़ा हमला हुआ था, जिसमें 30 लोग मारे गए थे। एक आतंकी की पहचान हमले की शिकार बस में सभी श्रद्धालु गुजरात के बताए गए

आतंकी बुरहान वानी के एनकांउटर को आज एक साल पूरा हो गया है। श्रीनगर में हिंसा की आशंका और अलगाववादियों के बंद के आह्वान पर घाटी में भारी फोर्स तैनाती की गई है। श्रीनगर के साथ ही दक्षिणी कश्मीर के अनंतनाग और पुलवामा समेत उत्तरी कश्मीर के बारामुला जिले में धारा एक सौ चवालिस लागू कर दी गई है। हर किसी के बाहर निकलने और वाहनों के चलने पर पाबंदी रहेगी।  हालांकि, आपात सेवा और कर्मचारियों को इस सेवा से मुक्त रखा गया है, साथ ही इंटरनेट सेवाएं भी बंद कर दी गई है। पाक ने फिर तोड़ा सीजफायर उधर, पुंछ में पाकिस्तान

उत्तरी कश्मीर के बारामुला जिले में तैनात एक कश्मीरी जवान सेना के कैंप से एके-47 और तीन मैगजीन लेकर फरार हो गया है. अधिकारिक सूत्रों के मुताबिक जबूर अहमद ठाकोर 173 टेरिटोरियल आर्मी रेजिमेंट के इंजीनियरिंग विंग में तैनात था, जो बारामुला जिले के गांटमुला से फरार है. जहूर ठाकोर रात में सेना की यूनिट को चकमा देकर फरार हुआ है. ठाकोर पुलवामा का रहने वाला है. उसकी तलाश में पुलिस ने सर्च अभियान शुरू किया है. पुलिस ने उसके ज्ञात ठिकानों और घर पर सुरक्षा बल भेजे हैं और पूरी तत्परता के साथ तलाशी अभियान चलाया जा रहा है. गौरतलब है कि

जम्मू-कश्मीर में आतंकियों के खिलाफ सेना का ऑपरेशन लगातार जारी है. पुलवामा में पिछले 24 घंटों से सुरक्षाबल आतंकियों से मुठभेड़ कर रहे थे. अब मुठभेड़ खत्म हो गया है. इस कार्रवाई में जवानों ने तीनों आतंकियों को ढेर कर दिया है. सोमवार से शुरू हुए इस मुठभेड़ में सुरक्षाबलों तीन आतंकियों को ढेर कर दिया. ये एनकाउंटर पुलवामा के बामनू इलाके में चल रहा था. इलाके में सर्च ऑपरेशन जारी है. ये एनकाउंटर सोमवार सुबह शुरू हुआ था. बताया जा रहा है कि सुरक्षाबलों ने तीन नए आतंकियों को अपना निशाना बनाया. आपको बता दें कि जून के आखिर में ही सेना

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच देर रात से मुठभेड़ जारी है। सुरक्षाबलों को खबर मिली थी कि मलंगपोरा गांव मे आतंकी छिपे हैं। जैसे ही सुरक्षाबलों ने तलाशी अभियान शुरू किया, आतंकियों ने फायरिंग शुरू कर दी। कहा जा रहा है कि तीन आतंकी इलाके में छिपे हुए थे, जिसमें से सेना ने दो आतंकियों को मार गिराया है, जबकि एक को घेर लिया है। वहीं सुरक्षाबलों पर स्थानीय शरारती तत्व पत्थरबाजी भी कर रहे हैं। गांव में आतंकी रियाज़ निक्कू और सैफुल्लाह मीर छुपे होने की आशंका हैं। फिलहाल दोनों ओर से गोलीबारी हो रही है।

जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग जिले में सुरक्षाबलों और आतंकियों की बीच शनिवार सुबह 6 बजे से शुरू हुई मुठभेड़ में 2 आतंकी ढेर हो गए हैं. इस ऑपरेशन में टॉप लश्कर कमांडर बशीर लश्करी मारा गया है. इसके अलावा क्रॉस फायरिंग में 2 नागरिकों की भी मौत हो गई है, जिसमें एक महिला है, जबकि कई घायल हो गए हैं. सुरक्षाबलों ने एसएचओ फिरोज डार की शहादत के जिम्मेदार टॉप लश्कर कमांडर आतंकी बशीर लश्करी को घेर लिया था. सुरक्षाबलों ने शनिवार सुबह अनंतनाग जिले के डेलगम गांव को घेरा और खोज अभियान शुरू किया था. यहां एक आवासीय घर में आतंकियों