जलालाबाद अफगानिस्तान के जलालाबाद शहर में स्थित राष्ट्रीय टेलीविजन और रेडियो स्टेशन के दफ्तर पर बुधवार को आत्मघाती हमला हुआ. करीब तीन बंदूकधारी हमलावर दफ्तर में घुसे और सुरक्षाकर्मियों पर ताबड़तोड़ फायरिंग शरू कर दी. प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक, फायरिंग के वक्त बिल्डिंग में भगदड़ का माहौल था. कई पत्रकारों के बिल्डिंग में फंसे होने की सूचना है. हमले की किसी आतंकी समूह द्वारा अब तक जिम्मेदारी नहीं ली गयी है. अफगानिस्तान के जिस प्रांत में यह घटना हुई, वो इस्लामिक स्टेट के आतंकियों का एक बड़ा गढ़ माना जाता है. सरकारी प्रवक्ता अताउल्लाह खोगयानी के मुताबिक, बिल्डिंग में घुसे तीन आतंकियों में से

जलालाबाद में दूल्हा साइकिल पर सवार होकर दुल्हन लेने के लिए पहुंचा। बारात में सिर्फ 21 लोग थे। लड़के वालों ने लड़की वालों से कोई दहेज नहीं लिया सिर्फ तीन जोड़ी कपड़ों में दुल्हन को लेकर अपने घर पहुंचे। यह शादी बहुत ही साधारण थी। इसे देखने के लिए पूरा गांव उमड़ पड़ा। प्रांतीय पूर्व सीनी. उप प्रधान जोगिन्द्र सिंह राजपूत ने कहा कि सिरकीबन्द बिरादरी में जहां विवाह शादियों और मृत्यु में लेनेदेन का बहुत चलन है, पर यह लोग विवाह शादियों और मौत पर अपनी नाक रखने के लिए कर्ज उठा कर यह सब कुछ करते हैं और सारी