सिक्किम के डोकलाम में टकराव अभी शांत भी नहीं हुआ है कि अब चीन ने लद्दाख में भारतीय सीमा में घुसने की कोशिश की है. मंगलवार सुबह करीब 11 बजे चीन के सैनिक पांच छह गाड़ियां लेकर आए और उसे अपने इलाके में खड़ी कर पैदल पैदल भारतीय इलाके में घुस आए. जिस जगह से चीनी सैनिक भारत में दाखिल हुए वह पेंगोंग झील का इलाका है. चीनी सैनिकों की इस हरकत को देखकर वहां तैनात आईटीबीपी के जवानों ने ह्यूमन चैन बना लिया और उन्हें रोकने लगे. इस दौरान देशों के सैनिकों के बीच हाथापाई भी हुई. यह विवाद

भारतीय क्रिकेट कप्तान विराट कोहली फोर्ब्स की दुनिया के सर्वाधिक कमाई करने वाले 100 खिलाडि़यों की सूची में जगह बनाने वाले अकेले भारतीय हैं. इस लिस्ट में फुटबाल स्टार क्रिस्टियानो रोनाल्डो शीर्ष पर हैं. फोर्ब्स की 2017 की दुनिया में सर्वाधिक कमाई करने वाले खिलाड़ियों की सूची में 28 साल के कोहली 89वें नंबर पर हैं, उनकी कुल कमाई दो करोड़ 20 लाख डॉलर है जिसमें 30 लाख डालर वेतन और पुरस्कार के अलावा एक करोड़ 90 लाख डालर विज्ञापन से कमाई है. कोहली की तारीफ करते हुए फोर्ब्स ने लिखा है कि इस सुपरस्टार की तुलना अच्छे कारणों से अभी

पाकिस्तान में अफसरों ने एक भारतीय को अरेस्ट किया है। PAK मीडिया के मुताबिक, इस भारतीय नागरिक के पास ट्रैवल डॉक्युमेंट पूरे नहीं थे। PAK अफसरों ने भारतीय के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। PAK के F-8 एरिया से अरेस्ट किया - पाकिस्तान के समा न्यूज के मुताबिक, इंडियन को पाकिस्तान के F-8 एरिया से अरेस्ट किया गया है। - "इंडियन सिटिजन के खिलाफ फॉरेन एक्ट के आर्टिकल 14 के तहत केस दर्ज किया गया है। उसे ज्यूडिशियल रिमांड पर जेल भेज दिया गया है।" इंडियन हाई कमीशन को जानकारी नहीं - इंडियन हाई कमीशन के एक अफसर ने कहा कि हमें इस अरेस्ट

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने अमेरिका के वित्त मंत्री स्टीवन न्यूचिन के समक्ष H-1B VISA पर प्रतिबंध के मुद्दे को उठाया. भारत को आशंका है कि इस प्रतिबंध से भारतीय आईटी पेशेवरों का अमेरिका आना प्रभावित होगा. अमेरिका के वित्त मंत्री के साथ बैठक के दौरान जेटली ने भारतीय कंपनियों तथा पेशेवरों के अमेरिकी अर्थव्यवस्था में योगदान को देखने की जरूरत पर जोर दिया. जेटली के मुताबिक अमेरिका के ऐसे रुख से उसे बड़ा नुकसान हो सकता है. राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने एच-1बी वीजा कार्यक्रम से जुड़े नियमों को कड़ा करने के लिये सरकारी आदेश पर हस्ताक्षर कर दिया है. इसका

इंडियन रेलवे जल्द प्राइवेट कंपनियों को अपने प्राइवेट टर्मिनल्स से मालगाड़ी चलाने की इजाजत दे सकता है। इससे देश के रेलवे नेटवर्क पर भारतीय रेल की मोनोपॉली खत्म हो सकती है। सीमेंट, स्टील, ऑटो, लॉजिस्टिक्स, अनाज, केमिकल्स और फर्टिलाइजर्स सेक्टर की कंपनियों ने रेलवे की स्पेशल फ्रेट ट्रेन ऑपरेशंस स्कीम के तहत अपनी फ्लीट चलाने में दिलचस्पी दिखाई है। इसकी जानकारी एक वरिष्ठ रेलवे अधिकारी ने दी है। अगर यह स्कीम सफल रहती है तो आगे चलकर प्राइवेट पैसेंजर ट्रेन चलाने की जमीन भी तैयार हो सकती है। टाटा स्टील, अडानी एग्रो, कृभको और कई अन्य प्राइवेट कंपनियों के पास पहले