रेलवे को हो रहे घाटे को लेकर सरकार की आेर से किराये में चुपके से बढ़ोतरी कर दी जा रही है, लेकिन आपको यह जानकर आश्चर्य होगा कि एक साल में केवल टिकट कैंसेलेशन से करोड़ों रुपये की कमार्इ की. सरकार ने शुक्रवार को कहा कि रेलवे ने टिकट कैंसिल कराये जाने से साल 2016-17 में कुल 1400 करोड़ रुपये की कमाई की है. रेलवे की ये कमाई पिछले वित्तवर्ष के मुकाबले 25 फीसदी की बढ़त दिखाती है. नवंबर 2015 से टिकट कैंसिल कराने की फीस को दोगुना करने के बाद से ही रेलवे को कैंसिल्ड टिकटों से मिलने वाली

भारतीय रेल और फ्रांस रेलवे मिलकर चंडीगढ़-नई दिल्ली के बीच प्रस्तावित हाई स्पीड रेलमार्ग पर 200 किलोमीटर प्रतिघंटा की रफ्तार से ट्रेन चलाने की तैयारी कर रहे हैं। रेलवे अधिकारियों का दावा है कि ऐसा करने से चंडीगढ़ से दिल्ली के बीच की दूरी मात्र दो घंटे रह जाएगी। चंडीगढ़ से दिल्ली 245 किलोमीटर है। इसके लिए फ्रांस रेलवे की मदद से इस रेलमार्ग पर बिना जमीन एक्वायर किए आने वाले कर्व्स यानी घुमाव को मजबूत कर यहां से तेज रफ्तार से ट्रेन निकालकर यह लक्ष्य हासिल करने की तैयारी में जुट गई है। चंडीगढ़-दिल्ली उत्तर भारत का सबसे व्यस्त

भारतीय रेलवे की कैटरिंग सर्विस पर सीएजी की ऑडिट रिपोर्ट शुक्रवार को संसद में रखी जानी है. रिपोर्ट में बताया गया है कि रेलवे स्टेशनों पर जो खाने-पीने की चीजें परोसी जा रही हैं, वो इंसानी इस्तेमाल के लायक ही नहीं हैं. रिपोर्ट के मुताबिक, ट्रेनों और स्टेशनों पर परोसी जा रही चीजें प्रदूषित हैं. डिब्बाबंद और बोतलबंद चीजों को उनके सुरक्षित इस्तेमाल के लिए तयशुदा टाइम पीरियड के गुजर जाने के बावजूद बेचा जा रहा है. इसके अलावा, अनाधिकृत ब्रैंड की पानी की बोतलें बेची जा रही हैं. जांच में यह भी पाया गया कि रेलवे परिसरों और ट्रेनों में साफ-सफाई

चंडीगढ़ के नजदीक ट्रेन में एक दिव्यांग व्यक्ति को तीन लोगों ने कथित तौर पर पीटा और उसे चलती ट्रेन से फेंक दिया. इससे पहले पीड़ित ने उन्हें सिगरेट पीने से मना किया था. यह घटना मथुरा जाने वाली एक ट्रेन में मुस्लिम किशोर की हत्या के कुछ वक्त बाद हुई है. हरियाणा के फरीदाबाद के रहने वाले उपेंद्र प्रसाद (45) चंडीगढ़ रेलवे स्टेशन ट्रेन में सवार हुए थे. उन्हें दिल्ली स्टेशन पर उतरना था और फिर राष्ट्रीय राजधानी के बाहरी इलाके में स्थित अपने गृह नगर जाना था. रेलवे पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, प्रसाद ने अपनी शिकायत में

रेलवे एक बार फिर अपने नियमों में बदलाव करने जा रहा है। अब एक जुलाई से तत्काल टिकट कैंसिल कराने पर रेलवे अपने यात्रियों को 50 फीसदी रिफंड वापस करेगा। इससे पहले रेलवे तत्काल टिकट कैंसिल करने पर एक भी पैसा रिफंड नहीं करता था चाहे वह टिकट ऑनलाइन बुक हो या फिर काउंटर से। वहीं, एसी कोच के लिए तत्काल टिकट बुक करने के समय में भी बदलाव कर दिया गया है। 1 जुलाई के बाद एसी कोच के लिए सुबह 10 बजे से 11 बजे के बीच में टिकट बुक कराना होगा। वहीं दूसरी ओर स्लीपर कोच के लिए तत्काल

दिल्ली भारतीय रेलवे देश की प्रीमियर ट्रेन राजधानी और शताब्दी एक्सप्रेस को नया लुक देने के काम में जुट गया है. इन ट्रेनों में केटरिंग, स्टाफ, टॉयलेट साफ-सफाई और ऑन बोर्ड एंटरटेनमेंट जैसी सर्विसेस में बदलाव किए जाएंगे. माना जा रहा है कि राजधानी और शताब्दी के मेकओवर को लेकर किए जा रहे ये बदलाव अक्टूबर से देखने को मिलेंगे. इन प्रीमियर ट्रेनों में सफर करने वाले यात्रियों के एक्सपीरियंस को और बेहतर बनाने के लिए भारतीय रेलवे 30 ट्रेनों (15 राजधानी और 15 शताब्दी) के मेकओवर की तैयारी कर रहा है. इस काम में करीब 25 करोड़ रुपए का खर्च आएगा.

दिल्ली रेल मंत्रालय ने देश भर के 20 रेलवे स्टेशनों को निजी कंपनियों को नीलाम करने का फैसला किया है. इसके तहत रेलवे स्टेशनों पर विश्वस्तीय सुविधाएं स्थापित करना कंपनियों की जिम्मेदारी होंगी, जबकि ट्रेन परिचालन, टिकट और सुरक्षा की देखरेख रेलवे संभालेगा. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, इस लिस्ट में मुंबई का लोकमान्य तिलक टर्मिनल, मुंबई सेंट्रल (मुख्य), बोरिवली, पुणे, ठाणे, विशाखापत्तनम, हावड़ा, इलाहाबाद, कानुपर सेंट्रल, कामाख्या, फरीदाबाद, जम्मू तवी, उदयपुर शहर, सिकंदराबाद, विजयवाड़ा, रांची, कोझिकोड, यसवंतपुर, बैंगलोर कैंट, भोपाल और इंदौर जैसे स्टेशनों को पब्लिक-प्राइवेट पार्टनरशिप (PPP) के तहत विकसित करने का फैसला किया है. खबरों के मुताबिक, सरकार ने इन स्टेशनों

आईआरसीटीसी एक नई फैसिलिटी शुरू करने जा रहा है- टिकट अभी लो, पैसे बाद में चुकाओ। इसमें जर्नी की तारीख से 5 दिन पहले टिकट लिया जा सकेगा। इस पर 3.5% सर्विस चार्ज भी लगेगा। पैसे टिकट लेने के 14 दिन बाद तक दिए जा सकेंगे। यह ऑप्शन सिर्फ ई-टिकट के लिए होगा। आधार और पैन जरूरी - आईआरसीटीसी की वेबसाइट पर जल्दी ही 'बाय नाऊ, पेमेंट लेटर' नाम का ऑप्शन मिलेगा। - ऑनलाइन टिकटिंग के दौरान जो पैसेंजर पैसा बाद में देना चाहेंगे, उन्हें आधार व पैन कार्ड की जानकारी देनी होगी। - इसके बाद मोबाइल फोन पर वन टाइम पासवर्ड यानी ओटीपी

भारतीय रेलवे ने यात्रियों को बिना सफर किराए ही बीते तीन वर्षों में आठ हजार करोड़ रुपये की कमाई की है। हर साल रेलवे को बिना सफर कराए 2500 करोड़ रुपये से अधिक की आमदनी हो रही है। इसका खुलासा केंद्र द्वारा दिए गए आरटीआई के जवाब में हुआ है। रेलवे ने यह रकम रिजर्वेशन कैंसिलेशन, विंडो वेटिंग टिकट, आंशिक कंफर्म ई-टिकट के रद न कराए जाने से कमाई है। रेलवे ने तीन वर्षों में सबसे अधिक कमाई विंडो वेटिंग टिकट के रद न हो पाने से की है। आपको बता दें कि विंडो वेटिंग टिकट के कंफर्म होने की जानकारी ट्रेन

आज तेजस एक्सप्रेस को बहुप्रतीक्षित हरी झंडी दी जानी है. रेल मंत्री सुरेश प्रभु एलईडी टीवी, वाईफाई, सीसीटीवी जैसी अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस इस ट्रेन को सोमवार यानी आज मुंबई से हरी झंडी दिखाकर गोवा के लिए रवाना किया जाएगा. हालांकि इसका किराया शताब्दी ट्रेन से भी 20 गुना ज्यादा है लेकिन जिस प्रकार की स्पीड और सुविधाएं यह ट्रेन दे रही है, वे शानदार हैं. तेजस एक्सप्रेस में ये होंगी सुविधाएं -स्वचालित दरवाजे केवल मेट्रो में ही हैं लेकिन अब इस ट्रेन में भी होंगे. -मुंबई-गोवा मार्ग पर शुरू होने के बाद यह ट्रेन सेवा दिल्ली-चंडीगढ़ मार्ग पर भी शुरू की जा