चैम्पियंस ट्रॉफी के फाइनल में कल  भारत-पाकिस्तान का फाइनल मुकाबला होने वाला है. इस मैच को लेकर क्रिकेट फैंस में काफी क्रेज हैं, हर कोई अपनी टीमों को स्पोर्ट कर रहा है, लेकिन पाकिस्तान क्रिकेट टीम के कप्तान सरफराज अहमद के रिश्तेदार (मामा) महबूब हसन पाकिस्तान को नहीं बल्कि भारत की जीत की दुआ कर रहे हैं. दरअसल, उत्तरप्रदेश के इटावा में पाकिस्तान क्रिकेट टीम के कप्तान सरफराज अहमद के मामा महबूब हसन रहते हैं. सरफराज के मामा इटावा के कृषि इंजीनियरिंग कॉलेज में वरिष्ठ लिपिक के पद पर तैनात हैं. उन्होंने रविवार को भारत-पाकिस्तान के बीच होने वाले मैच से

टीम इंडिया के हाथों करारी हार के बाद पाकिस्तान टीम ने शानदार वापसी करते हुए दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ जीत हासिल की, लेकिन इस मैच के बाद एक ऐसा वाक्या देखने को मिला, जिसे देखकर सभी की हंसी निकल गई. दरअसल, इस मैच में अच्छा प्रदर्शन करने के लिए हसन अली को प्लेयर अॉफ द मैच का आवॉर्ड दिया गया. जब वह इस अवॉर्ड को लेने आए, तो कमेटेटर ने उनसे कई सवाल पूछे, जो कि अंग्रेजी में थे, लेकिन हसन अली अंग्रेजी नहीं बोल पाए और उन्होंने सवालों का जवाब देने के लिए अपने साथी बुला लिया और उसे जवाब

दिल्ली रविवार को बर्मिंघम के एडवेस्टर स्टेडियम में हुए भारत-पाकिस्तान मैच के दौरान कॉमेंट्री कर रहे विरेंद्र सहवाग और सौरव गांगुली आपस में मजाक-मजाक में भिड़ते नजर आए. मैच में टीम इंडिया की बैटिंग के दौरान सहवाग ने गांगुली को लेकर कहा कि विकेट के बीच दौड़ के मामले में वो अच्छे नहीं थे. सहवाग ने कहा, ‘‘दादा तेजी से 2 या तीन रन नहीं दौड़ पाते थे, इसलिए कई बार वो रन आउट भी हुए. इससे टीम का स्कोर भी प्रभावित होता था.’’ सहवाग की यह बात सुनने के बाद गांगुली तुरंत एक पर्ची लेकर आए और बोले कि इसमें देखें विकेट

लंदन 4 जून को चैंपियंस ट्रॉफी में भारत-पाकिस्तान के बीच होने वाले मुकाबले से पहले विराट कोहली ने बर्मिंघम में प्रेस को संबोधित किया. इस दौरान उन्होंने कहा कि हम पाकिस्तान को हलके में नहीं लेंगे. यह मैच हमारे लिए दूसरे मैचों जैसा ही है. विराट ने कहा, ड्रेसिंग रुम का हिस्सा बने बगैर बहुत से लोग कई तरह की अफवाहें उड़ा रहे हैं. मेरे और कुंबले के बीच किसी तरह की लड़ाई नहीं है. यदि कुछ प्रक्रिया का हिस्सा हो तो कुछ लोग इसके बारे में पता नहीं क्यों अफवाह उड़ा रहे हैं. यही प्रक्रिया पिछली बार भी कोच के चुनाव