हरियाणा सरकार ने चार आईएएस अधिकारियों और तीन एचसीएस अधिकारियों के ट्रांसफर और तैनाती के आदेश जारी किये हैं। हरियाणा के मुख्य प्रशासक आनंद मोहन शरण और हरियाणा राज्य कृषि विपणन बोर्ड के मुख्य प्रशासक मनदीप सिंह बराड़ को उनके वर्तमान कार्यभार के अलावा मुख्यमंत्री के उप-प्रधान सचिव का अतिरिक्त कार्यभार भी सौंपा गया है। शहरी स्थानीय निकाय विभाग के प्रधान सचिव और आवासीय आयुक्त, हरियाणा भवन, नई दिल्ली तथा व्यापार मेला प्राधिकरण, हरियाणा के मुख्य प्रशासक आनंद मोहन शरण को उनके वर्तमान कार्यभार के अलावा मुख्य कार्यकारी अधिकारी, गुरुग्राम मैट्रोपोलिटन विकास प्राधिकरण का अतिरिक्त कार्यभार भी सौंपा गया है। हरियाणा

हरियाणा सरकार ने पिछले 5 वर्ष से एच.सी.एस. से आई.ए.एस. बनने की प्रतीक्षा कर रहे वर्ष 2012 से 2015 बैच के 40 अधिकारियों के नाम केंद्र को भेजे थे। केंद्र सरकार की यूनियन पब्लिक सर्विस कमीशन कमेटी (यू.पी.एस.सी.) की चयन समिति ने 14 जुलाई को मीटिंग की तारीख तय की है। इस बैठक में कमेटी 32 एच.सी.एस. अधिकारियों को आई.ए.एस. बनाने की सिफारिश की जाएगी। राज्य की तरफ से इस कमेटी में मुख्य सचिव, वित्त आयुक्त (राजस्व) तथा वरिष्ठ आयुक्त हिस्सा लेंगे। आई.ए.एस. बनने वाले अधिकारियों की सूची में पंकज चौधरी, आर.एस. वर्मा, विवेक पदम सिंह, मोनिका मालिक, जगबीर आर्य, महेश्वर

हिमाचल प्रदेश में सरकार ने विधानसभा चुनाव से पहले बड़े पैमाने पर प्रशासनिक फेरबदल किया है. इसके तहत 2 आई.ए.एस. व 51 एच.ए.एस. अधिकारी बदले गए हैं. तबदील किए गए अधिकारियों में 18 एस.डी.एम. हैं. इसके अलावा एक आई.ए.एस. अधिकारी को तैनाती भी दी गई है. साथ ही राज्य सरकार ने बी.एल. बिंटा को अतिरिक्त शिक्षा निदेशक के पद से पदोन्नत कर शिक्षा निदेशक बनाया है. इससे पहले वह अतिरिक्त शिक्षा निदेशक के पद पर रहते हुए शिक्षा निदेशक पद का दायित्व संभाल रहे थे. राज्य सरकार ने जिन आई.ए.एस. अधिकारियों को तबदील किया है, उसमें तैनाती का इंतजार कर रही

भारतीय वायुसेना के प्रमुख एयरचीफ मार्शल बीएस धनोआ ने भारतीय वायुसेना के अधिकारियों को एक खत लिखा है, जिसमें उन्होंने उनसे किसी भी वक्त शॉर्ट नोटिस में बड़ी कार्रवाई के लिए तैयार रहने को कहा है, ऐसा पहली बार है कि भारतीय वायुसेना के चीफ ने एक निजी खत सभी अधिकारियों को लिखा है. वायुसेना प्रमुख के इस खत पर 30 मार्च के साइन है, जिसमें उन्होंने पक्षपात और यौन उत्पीड़न के मामलों का भी जिक्र किया है. 12000 ऑफिसर्स को भेजा गया ये खत धनोआ की नियुक्ति के 3 महीने के बाद लिखा गया है. इससे पहले दो अन्य आर्मी चीफ