अलगाववादी सयैद अली शाह गिलानी के तहरीक-ए-हुर्रियत पार्टी के तीन नेताओं को NIA की टीम ने श्रीनगर में गिरफ्तार किया है. गिरफ्तार किए गए हुर्रियत नेताओं में गिलानी का पीआरओ अयाज अकबर, दामाद अल्ताफ फंटूश और मेहराजदिन कलवल है. एनआई ने इसी माह इन तीनों अलगाववादी नेताओं के घर छापा मारा था. तहरीक-ए-हुर्रियत ने गिरफ्तारी की पुष्टि की है, हालांकि गिलानी के करीबियों की गिरफ्तारी का कारण नहीं बताया गया है. आपको बता दें, हाल ही में एक न्यूज चैनल ने कश्मीर में पत्थरबाजी और अशांति के लिए पाकिस्तानी फंडिंग का खुलासा किया था. इसमें पहली बार कैमरे पर अलगाववादी नेता पाकिस्तान

जम्मू कश्मीर में अलगाववादी हुर्रियत नेताओं को पाकिस्तान से पिछले 8 साल में 1500 करोड़ रुपए मिले। इनमें से आधी रकम उन्होंने अपनी निजी जिंदगी ठाठ से बिताने पर खर्च की। एक मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, यह खुलासा एनआईए को हुर्रियत नेताओं के यहां छापों में मिले दस्तावेजों से हुआ है। पाकिस्तान ने इन्हें यह रकम घाटी में हिंसा और आतंकवाद फैलाने के लिए रिसोर्स जुटाने के मकसद से दी थी। हुर्रियत नेताओं की महंगी लाइफ स्टाइल भी पाक के खर्चे से - एनआईए सोर्सेज के मुताबिक, हुर्रियत नेताओं की महंगी लाइफ स्टाइल और उनके बच्चों की विदेशों में महंगी पढ़ाई भी

श्रीनगर हिज्बुल मुजाहिद्दीन का आतंकी जाकिर मूसा ने कश्मीर के हुर्रियत नेताओं का सिर काटने की चेतावनी दी है. मूसा ने एक ऑडियो जारी कर यह चेतावनी दी है. ऑडियो में मूसा कह रहा है कि अगर हुर्रियत नेता आतंकी संगठनों के इस्लाम के लिए 'संघर्ष' में हस्तक्षेप करेंगे तो उनके सिर काटकर लाल चौक पर टांग दिया जाएगा. हालांकि इस ऑडियो की सत्यता की पुष्टि नहीं हो पाई है. सोशल मीडिया पर वायरल ऑडियो में मूसा धमकी देते सुना जा सकता है. मूसा कह रहा है, 'मैं सभी ढोंगी हुर्रियत नेताओं को चेतावनी देता हूं कि वे हमारे इस्लाम के 'संघर्ष'