मनाली के साथ लगते गांव गोजरा में एक ढाई मंजिला मकान रसोई गैस सिलेंडर के फटने से जलकर राख हो गया। घटना में मकान में रह रहे एक मजदूर की जिंदा जलकर मौत हो गई। जबकि अन्य चार मजदूर सुरक्षित हैं। घटना में करीब 16 लाख रुपये नुकसान आंका गया है। आग से गांव में अफरा-तफरी मच गई। पुलिस ने सीआरपीसी की धारा 174 के तहत मामला दर्ज कर तहकीकात शुरू कर दी है। जानकारी के अनुसार मंगलवार देरशाम करीब साढ़े नौ बजे गोजरा निवासी हीरा लाल पुत्र लुदर चंद के मकान में सिलेंडर फटने से आग लग गई। मकान में छह

हिमाचल विधानसभा चुनाव को लेकर कांग्रेस-बीजेपी में तीखी बयानबाजी होती रहती है लेकिन मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह  अपने बयानों से अपनी ही पार्टी की दिक्कतें बढ़ा रहे हैं. मंगलवार को कुल्लू के बजौरा दौरे पर वीरभद्र ने एक अहम बयान दिया. उन्होंने कहा कि अब मैं सियासत के इस लंबे सफर में चुनाव लड़ते-लड़ते थक चुका हूं लेकिन हाईकमान के आदेश पर फिर से विरोधियों के साथ-साथ दो-दो हाथ करने के लिए तैयार हूं. उन्होंने जनसभा के दौरान संगठन के पदाधिकारियों पर भी जमकर निशाना साधा और कहा कि संगठन का चुनाव लोकतांत्रिक तरीके से होना चाहिए. सीएम ने कुल्लू दौरे के

हिमाचल प्रदेश के जिला सिरमौर में बिना सूचना के लम्बे समय से गैर-हाजिर रहने वाले शिक्षकों की अब खैर नहीं है. ऐसे शिक्षकों पर अब जल्द ही गाज गिरने वाली है. शिक्षा विभाग पिछले लम्बे समय से गैर-हाजिर रहने वाले शिक्षकों पर अब कड़ी कार्रवाई करने जा रहा है. मिली जानकारी के मुताबिक जिला सिरमौर में प्रारंभिक शिक्षा विभाग में ऐसे करीब 8 शिक्षक हैं जो पिछले लम्बे समय से गैर-हाजिर चल रहे हैं जिसके बाद विभाग अब कार्रवाई करेगा ताकि छात्रों की पढ़ाई प्रभावित न हो. शिक्षा विभाग से प्राप्त जानकारी के अनुसार कुछ शिक्षक ऐसे भी हैं जो

हिमाचल सरकार की मंगलवार को कैबिनेट की अहम बैठक हुई. बैठक में कई बड़े फैसले लिए गए. सरकार ने बंपर नौकरियों के ऑफर के साथ ही कर्मचारियों पर भी पैसा बरसाया है.वर्ष 2016 - 17 बजट भाषण में 300 रुपये की बढ़ोतरी के बाद सरकार ने मंगलवार को कैबिनेट की बैठक में चौकीदारों के मानदेय में 700 रुपये की और बढ़ोतरी की है। पंचायत चौकीदारों के मानदेय में बढ़ी हुई दोनों राशि एक साथ मिलेगी। बताया जा रहा है कि अगले महीने से पंचायत चौकीदारों के खाते में 1000 रुपये बढ़कर आएगा। पंचायत राज विभाग से मिली जानकारी के मुताबिक हिमाचल

हिमाचल और उत्तराखंड राज्य की सीमा पर यमुना नदी पर बने पुल से फांसी लगाकर 24 साल के एक युवक ने जान दे दी। सोमवार सुबह सैर पर निकले कुछ लोगों ने नदी पर लटके शव पर की सूचना पुलिस को दी। इसके बाद पुलिस और अग्निशमन विभाग की टीम मौके पर पहुंची। इसके बाद शव को सेफ्टी बेल्ट और हाइड्रो मशीन की सहायता से बाहर निकाला गया। शव की पहचान जामनीवाला के 24 वर्षीय गोविंद दास के रूप में हुई है। पुलिस ने पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को शव सौंप कर आगामी जांच शुरू कर दी है।

हिमाचल प्रदेश के सीएम वीरभद्र सिंह आय से अधिक मामले में बुधवार को दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट में पेश हुए. सीएम के साथ में उनकी पत्नी प्रतिभा सिंह भी थी. बुधवार को वीरभद्र सिंह को सीबीआई ने सीएम की ओर से मांगे गए डॉक्यूमेंट मुहैया नहीं करवाएं. इसके बाद पटियाला हाउस कोर्ट ने मामले की सुनवाई 31 अक्टूबर तक टाल दी. सीबीआई के तरफ से कोर्ट में दलील दी गई कि केस के जांच अधिकारी किसी और मामले में व्यस्त थे. लिहाजा, वह जरूरी कागजात फिलहाल उपलब्ध नहीं करवा सकते हैं. इसके बाद सीबीआई ने अगली तारीख की मांग की. क्या

खेत में काम कर रही मां को बेटे ने दराती से अनेक वार करके मौत के घाट उतार दिया। घटना को अंजाम देने के बाद खुद अपने पिता को मां के खेतों में गिरे होने की सूचना दी। इससे पहले की पिता मौके पर पहुंचते, बेटे ने भागने की कोशिश की। लेकिन ग्रामीणों ने उसे पकड़ लिया और पुलिस के हवाले कर दिया। मामला हिमाचल के मंडी का है। घटनास्थल पर महिला दम तोड़ चुकी थी। बेटा दिमागी तौर पर परेशान बताया जा रहा है। पुलिस ने हत्या का मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है। पुलिस से मृतक महिला की

हिमाचल प्रदेश के मंडी में भूस्खलन में मरने वालों की संख्या बढ़कर 46 हो गई है। ये सभी मृतक उन दो रोडवेज की बसों के यात्री हैं जो भूस्खलन की चपेट में आ गई थी। वहीं, मृतकों की संख्या बढ़ने की आशंका जताई जा रही है। यह हादसा शनिवार की देर रात हुआ। एक बस चंबा से मनाली जा रही थी, जबकि दूसरी मनाली से जम्मू के कटरा के सफर पर थी। रात होने के कारण राहत और बचाव का काम सुबह तक के लिए रोक दिया गया है। बताया जा रहा है कि यह हादसा तब हुआ जब दोनों बसें

हिमाचल के चंबा जिले के बरौर के डबोला गांव में पेड़ पर लटके छात्र का शव करीब 24 घंटे बाद फोरेंसिक टीम के पहुंचने पर रस्सी काटकर उतारा गया। इस दौरान मृतक के परिजन, ग्रामीण और पुलिस बल भी मौजूद रहा। इसके बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए पंडित जवाहर लाल नेहरू मेडिकल कॉलेज चंबा लाया गया। दो अगस्त को दिनेश बिजलवान राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला बरौर में परीक्षा देने गया था। इसके बाद लौटकर नहीं आया। बेटे का रिश्तेदारों के यहां पता करने पर कोई भी सुराग न मिला। इसके बाद परिजनों ने पुलिस में बेटे के लापता होने की

हिमाचल में भी चोटी कटने का पहला मामला सामने आया है। सोलन के नौंणी के एक गांव में स्कूली छात्रा के बाल कटने से हड़कंप मच गया है। प्रारंभिक सूचना के अनुसार यह छात्रा देर रात अपने घर के अंदर कमरे में सो रही थी। सुबह के समय जब इसकी आंख खुली तो चोटी कट चुकी थी। ये सब कैसे हुआ और किसने किया, इसका छात्रा को कोई पता तक नहीं चला। हैरानी की बात तो ये है कि छात्रा का कमरा पूरी तरह से बंद था। ऐसे में कौन कमरे में आकर चोटी काट गया, इसका कोई पता नहीं चल पाया