बिलासपुर अस्पताल में डॉक्टरों की मांग को लेकर बीजेपी प्रदेश कार्यकारिणी के सदस्य सुभाष शर्मा ने अब शिमला में आंदोलन शुरू कर दिया है। सरकार के आश्वासन के बाद भी बिलासपुर में अभी किसी डॉक्टर ने ज्वाइन नहीं किया। इसके विरोध में अब सुभाष शर्मा अपने साथियों के साथ स्वास्थ्य मंत्री के घर के बाहर अनशन पर बैठ गए है। उन्होंने कहा है कि जब तक जिला अस्पताल में डॉक्टरों की ज्वाइनिंग नहीं होती वे आंदोलन जारी रखेंगे। आपको बता दें कि सुभाष शर्मा इस संबंध में पहले भी 9 दिन तक आमरण अनशन पर बैठे थे। इसके बाद प्रशासन ने

हिमाचल प्रदेश में भाजपा के सीएम पद के दावेदार माने जा रहे केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जगत प्रकाश नड्डा ने कहा है कि वे केंद्र में रहकर ही हिमाचल की सेवा करते रहेंगे. एक सवाल के जवाब में नड्डा ने यहां तक कह दिया कि वे जहां पर हैं वहीं खुश हैं. वे शनिवार को स्पीति के ताबो में कृषि विज्ञान केंद्र के शिलान्यास कार्यक्रम में आए थे. पत्रकारों के साथ अनौपचारिक बातचीत में नड्डा ने कहा कि हिमाचल की जनता ने प्रदेश में भाजपा सरकार बनाने का मन बना लिया है उन्होंने कहा कि आगामी विस चुनावों में जनता प्रदेश को

केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री जगत प्रकाश नड्डा ने ऊना का दौरा किया, जहां उन्होने कार्यकर्ता सम्मेलन को भी संबोधित किया. अपने संबोधन में स्वास्थ्य मंत्री ने ऊना में एम्स जैसी सुविधाओं से लैस अस्पताल खोलने की घोषणा भी की. उन्होने बताया कि करीब 25 एकड़ जमीन पर बनने जा रहे इस अस्पताल में 320 करोड़ रूपए की लागत आएगी. 300 बैड वाले इस अस्पताल में 125 डॉक्टर अपनी सेवाएं देंगे. उन्होने बताया कि ये अस्पताल प्रदेश का ऐसा पहला अस्पताल होगा, जिसमें एम्स की तरह अत्याधुनिक सुविधाए होगी. सतपाल सिंह सत्ती व सांसद अनुराग ठाकुर इसके लिए कई बार आग्रह करते रहे हैं। उन्होंने