प्राइवेट परमिट पॉलिसी को लेकर रोडवेज कर्मचारी आज प्रदेशभर में दो घंटे की सांकेतिक हड़ताल करेंगे और सरकार के खिलाफ प्रदर्शन कर प्राइवेट परमिट पॉलिसी पर विरोध जताएंगे। गोहाना में हरियाणा रोडवेज संयुक्त कर्मचारी संघ के प्रदेश अध्यक्ष दलबीर किरमारा ने कहा कि, सरकार बार-बार प्राइवेट परमिट पॉलिसी को लागू कर कर्मचारियों के साथ मजाक कर रही है। आने वाली तेरह अगस्त को मतलोडा में परिवहन मंत्री के आवास का घेराव किया जाएगा।

बल्लभगढ़ से बैजनाथ जा रही हरियाणा रोडवेज की बस नंगल में ट्राले से टकरा गई। इस हादसे में 15 से ज्यादा यात्री घायल हो गए। हादसे के तुरंत बाद घायलों को सिविल अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। वहीं गंभीर रूप से घायल बस ड्राइवर और एक सवारी को पीजीआई रेफर किया गया है।

हरियाणा में नई परिवहन नीति को लेकर शुरू हुआ बवाल थमने का नाम नहीं ले रहा हैं। नई प्राइवेट परिवहन नीति समेत अन्य मांगों पर सरकार और हरियाणा रोडवेज की आठ यूनियनों के बीच सहमति नहीं बन पाई। प्रदेश में आज से किसी भी रूट पर हरियाणा रोडवेज की सामान्य और वॉल्वों बसें नहीं चलेंगी। यात्रियों को वैकल्पिक साधनों का इस्तेमाल करना होगा। कर्मचारी यूनियनों ने रविवार को पानीपत में बैठक कर मांगों के संबंध में सरकार को चौबीस घंटे का अल्टीमेटम दिया था। जिसकी मियाद सोमवार शाम खत्म हो गई। कर्मचारियों का आरोप है कि उनसे बार-बार समझौता करने के

सिरसा अपनी मांगों को लेकर हरियाणा रोडवेज कर्मचारियों ने सिरसा में चक्का जाम कर दिया. रोडवेज कर्मचारी निजी बसों को परमिट दिए जाने का विरोध कर रहे हैं. वहीं, प्रदर्शन की वजह से यात्रियों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. रोडवेज कर्मचारियों ने प्रशासन पर वादाखिलाफी का आरोप लगाया है. रोडवेज कर्मचारियों ने आरपार की लड़ाई लड़ने का ऐलान किया है. उन्होंने कहा कि जब तक निजी बसें बंद नहीं होती तब तक चक्का जाम रखेंगे.

चरखीदादरी में दादरी-दिल्ली रोड पर अचीना ताल गांव के पास  रोडवेज बस की चपेट में आने से एक छात्र की मौत हो गई। छात्र की मौत से गुस्साए ग्रामीणों ने रोड जाम कर दिया। गुस्साए ग्रामीणों ने रोडवेज बस में तोड़फोड़ कर आगजनी की।

नई ट्रांसपोर्ट पॉलिसी वापस नहीं लेने पर भड़की हरियाणा रोडवेज की सभी आठ यूनियनों ने दोबारा से आंदोलन का एलान किया है। आज प्रदेश के सभी चौबीस डिपो पर रोडवेज कर्मचारी प्रदर्शन करेंगे। इसके बाद 9 मई को चंडीगढ़ के सेक्टर सत्रह में परिवहन विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव सुदीप सिंह ढिल्लों के कार्यालय का घेराव किया जाएगा। ये जानकारी ऑल हरियाणा रोजवेज वर्कर यूनियन के प्रदेश अध्यक्ष हरिनारायण शर्मा ने दी। उन्होंने आरोप लगाया कि तेरह अप्रेल को परिवहन मंत्री कृष्ण पंवार, अतिरिक्त मुख्य सचिवऔर अन्य वरिष्ठ अधिकारियों के साथ मीटिंग में आश्वासन दिया गया था कि सरकार होईकोर्ट में

हरियाणा में रोडवेज बसों का चक्का जाम जारी है। आज भी रोडवेज की बसे नहीं चलेंगी। हड़ताल को लेकर मंगलवार को चंडीगढ़ में परिवहन विभाग और परिवहन मंत्री के साथ कर्मचारियों की बैठक भी हुई थी लेकिन ये बैठक बेनतीजा रही और रोडवेज कर्मचारियों ने हड़ताल जारी रखने की घोषणा कर दी है। कर्मचारियों का कहना है कि सरकार ट्रांस्पोर्ट पॉलिसी को वापस लेने के लिए तैयार नहीं जब तक सरकार पॉलिसी को वापस नहीं लेती तब तक हड़ताल जारी रहेगी। वहीं, परिवहन मंत्री कृष्ण लाल पंवार ने कहा कि सरकार के दरवाजे बातचीत के लिए खुले हैं।

करनाल/भिवानी/फतेहाबाद/सोनीपत/सिरसा/टोहाना हरियाणा में रोडवेज कर्मचारियों का प्रदर्शन जारी है. कर्मचारी, प्राइवेट बसों के परमिट जारी करने का विरोध कर रहे हैं, तो वहीं रोजवेज कर्मचारियों के प्रदर्शन के चलते कई जगहों पर बसों की आवाजाही प्रभावित है, जिससे यात्रियों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. कर्मचारियों ने साफ किया है कि जबतक उनकी मांगें पूरी नहीं होती, सरकार से उनकी आर-पार की लड़ाई जारी रहेगी. सोमवार को हरियाणा रोडवेज कर्मचारी संगठनों के पदाधिकारियों की परिवहन विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव के साथ हुई बैठक बेनतीजा रही. जिसके बाद रोडवेज के चार कर्मचारी संगठनों ने अनिश्चितकालीन हड़ताल करने का एलान