दसवीं की छात्रा से दुराचार और उसकी हत्या करने वाले दरिंदों को पकड़ने के लिए शिमला की स्मार्ट पुलिस के लंबे हाथ छोटे पड़ गए हैं। जंगलों की खाक छानने के बाद भी छात्रा के पांव से गायब एक जुराब तक पुलिस नहीं ढूंढ पाई है। रविवार को दिन भर पुलिस की टीमें जंगलों में भटकती रहीं पर कोई सुराग नहीं मिला। आरोप है कि पुलिस ने पहले दिन इस मामले को गंभीरता से नहीं लिया है। सूचना के करीब चार घंटे बाद पुलिस वारदात स्थल पर पहुंची। तब तक वहां सैकड़ों लोगों का हुजूम एकत्र हो गया था। कई लोगों