बिहार के पटना में एक नाबालिग लड़की को उसके प्रेमी ने धोखा दे दिया. प्रेमी ने लड़की को मिलने के लिए धोखे से बुलाया. जब लड़की प्रेमी से मिलने पहुंची तो उसने अपने तीन दोस्तों के साथ लड़की के साथ गैंगरेप किया. इसके बाद लड़की का गला दबाकर उसे मरा हुआ समझकर पुनपुन नदी में फेंक दिया. लेकिन संयोगवश पीड़िता की जान बच गई. पीड़िता नदी से बाहर निकली और पुलिस के पास जाकर मामला दर्ज कराया. पुलिस ने कार्रवाई करते हुए घटना के मात्र 6 घंटे के अंदर ही आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया. मिली जानकारी के मुताबिक, फतुहा थाना

शिमला पहुंचते ही सीबीआई ने बहुचर्चित गुड़िया गैंगरेप हत्याकांड मामले की जांच शुरू कर दी है। मामले की जांच के लिए सीबीआई ने पहले दिन ही तीन टीमों का गठन कर लिया है। इनमें से एक टीम सोमवार को कोटखाई के लिए रवाना होगी तो दो अन्य टीमें शिमला में ही रहेंगी। सीबीआई की विशेष अपराध शाखा के डीआईजी की निगरानी में एसआईटी ने अपना काम शुरू कर दिया। 15 सदस्यों की इस टीम में पुलिस अधीक्षक, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक और पुलिस उपाधीक्षक से लेकर इंस्पेक्टर, सब इंस्पेक्टर आदि सभी स्तर के अधीनस्थ अधिकारी हैं। SIT ने तीन टीमें की हैं तैयार सीबीआई की

मुक्तसर जिले के रुखाला गांव में युवती से गैंगरेप कर उसका वीडियो व्हट्स एप्प पर वायरल किए जाने का मामला सामने आया है। पीड़ित ने बताया कि गैंगरेप के बाद उसे जान से मारने की धमकियां दी गई। जानकारी के मुताबिक, पीड़ित गिद्दड़बाहा में डॉक्टरी का काम सीख रही है। रात 9 बजे के करीब उसे पड़ोसी युवक लेने के लिए आया। उसने युवती को बताया कि उसकी मां को हार्ट अटैक आया है। उसके परिवार वालों ने उसे लेने के लिए भेजा है। इसके बाद वो उसे किसी सुनसान जगह पर ले गया। वहां पहले से ही तीन व्यक्ति

बठिंडा: गांव बुर्ज राजगढ़ में देर रात दो युवक एक महिला के घर में घुसे और उसे नशीला पदार्थ सुंघा दिया. इसके बाद दोनों ने उसे हवस का शिकार बनाया. घटना 21 जून की की है. महिला को जब थोड़ा होश आया तो वह चिल्लाई. इस पर उसके परिजन जागे और उसके पास पहुंचे. पीडि़ता बताया कि देर रात तीन बजे के करीब गांव के ही युवक गुरजंट सिंह और फौजी उसके घर में दाखिल हुए. उन्होंने उसे नशा सुंघाया और हवस का शिकार बनाया. परिजनों ने थाना दियालपुरा पुलिस को सूचना देने के बाद महिला को बठिंडा सिविल अस्पताल में

गुरुग्राम गैंगरेप और नवजात की हत्या के मामले में पुलिस के हाथ बड़ी कामयाबी लगी है. पुलिस ने अब तक इस वारदात में शामिल दो आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है. गिरफ्तार किए गए पहले आरोपी का नाम योगेंद्र  और दूसरे का अमित बताया जा रहा है, जो बुलंदशहर का रहने वाला है बाकि तीसेरे आरोपी की भी तलाश की जा रही है जिसका नाम जयकेश है. आपको बता दें कि ये तीनों आरोपी भी बुलंदशहर के रहने वाले हैं. पुलिस कमिश्नर ने बताया कि आरोपियों ने शराब के नशे में इस वारदात को अंजाम दिया. महिला अपने पड़ोसी से झगड़े

जेवर इलाके में परिवार से लूट, हत्या और गैंगरेप पीड़ित तीनों महिलाओं ने आत्महत्या की कोशिश की है. उनमें से एक महिला ने पंखे से लटक कर जान देनी की कोशिश की. घर के अंदर पंखे से लटकते वक्त परिजनों की नजर पड़ जाने से महिला की जान बच गई. समय रहते पता चल जाने की वजह से परिजनों ने पीड़िता को बचा लिया. आपको बता दें कि पीड़ित परिवार आरोपियों की गिरफ्तारी की लंबे समय से मांग कर रहा है. पीड़ित परिवार ने पुलिस कार्यशैली पर भी सवाल उठाए हैं. पीड़ित महिला के परिजनों के अनुसार, कस्बे के मोहल्ला चोथय्यापट्टी

घर तक पहुंचाने का झांसा देकर दो दरिंदों ने कमरे में ले जाकर नेत्रहीन युवती के साथ गैंगरेप किया। मामला हिमाचल के मंडी जिले का है। इससे पहले की लड़की के चिल्लाने की आवाजें सुनकर गांव के लोग पहुंचते दरिंदे युवती को हवस का शिकार बना चुके थे।  मौके पर पहुंची ग्रामीण महिलाओं ने युवती को कमरे से बाहर निकाला और दोनों युवकों को कमरे के अंदर बंद कर दिया। सूचना पुलिस चौकी में दी गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार लिया है। मेडिकल में भी रेप की पुष्टि हो चुकी है। युवती दलित समुदाय से

ग्रेटर नोएडा के जेवर थाना इलाके के साबौता गांव के पास बुधवार रात चलती कार का टायर पंचर करके लूट और गैंगरेप मामले में पुलिस ने पीड़ित महिला के बयानों के आधार पर दो लोगों को हिरासत में लिया है.  फिलहाल पुलिस इनसे पूछताछ कर रही है. आपको बता दें कि जेवर-बुलंदशहर स्टेट हाईवे पर बुधवार देर रात करीब 12.15 बजे एक परिवार को बंधक बनाकर बदमाशों ने चार महिलाओं से सामूहिक दुष्कर्म किया. विरोध करने पर बदमाशों ने परिवार के मुखिया की गोली मारकर हत्या कर दी. इस मामले की जांच यूपी एसटीएफ कर रही है, जिसमें 6 अफसर शामिल

हरियाणा सीएम मनोहर लाल ने रोहतक गैंगरेप के दोषियों पर कड़ी कार्रवाई किए जाने की बात कही हैं। उन्होंने कहा कि मामले को फास्टट्रैक कोर्ट में ले जाएंगे और आरोपियों को जल्द से जल्द सजा दिलवाई जाएगी।

हरियाणा में रोहतक-सोनीपत गैंगरेप मामले की आग अभी शांत भी नहीं हुई थी कि रेप का एक और मामला सामने आ गया। अपहरण और गैंगरेप का ये मामला दिल्ली से सटे गुरुग्राम का है, जहां 22 साल की नॉर्थ ईस्ट की  युवती से तीन लोगों ने चलती कार में कथित तौर पर दुष्कर्म किया। पीड़िता युवती ने शिकायत में बताया कि जैसे ही वो दिल्ली से गुरुग्राम के सेक्टर-17 स्थित अपने घर के पास पहुंची, उसे तीन लोगों ने अपनी कार में अगवा कर लिया। इसके बाद उन लोगों ने यहां से बीस किलोमीटर दूर दिल्ली नजफगढ़ की ओर जा रही कार