हैम्बर्ग में हो रही जी-20 समिट में कल अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन की बैठक काफी चर्चाओं में रही. दोनों देशों के शीर्ष नेताओं के बीच तीस मिनट के लिए तय की गई ये बैठक करीब दो घंटे चली. बैठक के समय को बढ़ते देख अमेरिका की फर्स्ट लेडी यानि मेलानिया ट्रंप को इसे खत्म करने के लिए भेजा गया. एक घंटा बीत जाने पर मेलानिया ने बैठक को रोकने की कोशिश की, लेकिन ये मुमकिन नहीं हो सका. अमेरिका के राज्य सचिव रेक्स टिलरसन ने बताया कि ट्रंप और पुतिन के बीच कैमेस्ट्री इतनी अच्छी है कि निर्धारित समय पूरा होने के

जर्मनी के हैम्बर्ग के दूसरे दिन जी20 समिट के दूसरे दिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इटली के प्रधानमंत्री पाओलो जेंटिलोनी के साथ द्विपक्षीय मुलाकात की. वहीं औपचारिक सम्मेलन के इतर भारत और दक्षिण कोरिया के बीच भी द्विपक्षीय बातचीत हुई. इसके अलावा मेक्सिको, अर्जेंटीना, वियतनाम के नेताओं के साथ भी प्रधानमंत्री की द्विपक्षीय बैठक का कार्यक्रम है. Germany: Prime Minister Narendra Modi met Italian PM Paolo Gentiloni on the sidelines of G-20 Summit in Hamburg pic.twitter.com/46jrUJniFz — ANI (@ANI_news) July 8, 2017 Germany: Bilateral talks between India and South Korea on the sidelines of G-20 Summit in Hamburg. pic.twitter.com/hj9BNFb6xb — ANI (@ANI_news) July 8,

जी20 समिट के लिए जर्मनी के हैम्बर्ग शहर में दुनिया के शीर्ष नेताओं का जुटान हुआ है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी सम्मेलन के लिए हैम्बर्ग पहुंचे हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप, रूस के राष्ट्रपति व्लादीमिर पुतिन और तुर्की के राष्ट्रपति रेसेप तैयप एर्दोगॉन के साथ चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग पर इस बार के सम्मेलन में सबकी निगाहें होंगी. हैम्बर्ग पहुंचे हर नेता का अपना एजेंडा है, लेकिन जोर आतंकवाद, क्लाइमेट चेंज और पोटेक्शनिज्म पर बातचीत के जरिए बेहतर भविष्य के लिए रास्ता बनाने का है. सम्मेलन में औपचारिक बातचीत के अलावा भी और बहुत कुछ घट

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस्राइल की अपनी तीन दिन की यात्रा पूरी करने के बाद जी-20 शिखर सम्मेलन में शामिल होने के लिए जर्मनी के हैम्बर्ग शहर पहुंच गए हैं. हैम्बर्ग में 7-8 जुलाई को जी-20 शिखर-सम्मेलन का आयोजन किया जा रहा है. सम्मेलन का इस साल का विषय 'शेपिंग एन इंटर-कनेक्टिड वर्ल्ड' रखा गया है. प्रधानमंत्री कार्यालय ने ट्वीट किया, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी-20 शिखर सम्मेलन के लिए हैम्बर्ग पहुंच गए. शिखर सम्मेलन के जरिए अहम बहुपक्षीय एवं द्विपक्षीय वार्ता होंगी. नरेंद्र मोदी सम्मेलन के इतर ब्रिक्स देश ब्राजील, रूस, भारत, चीन एवं दक्षिण अफ्रीका के नेताओं की बैठक में भी