पंजाब से एक दिन में पांच किसानों की खुदकुशी का मामला सामने आया है। बठिंडा, खन्ना, श्री मुक्तसर साहिब और बटाला में किसानों ने कर्ज से परेशान होकर खुदकुशी कर ली। बठिंडा के तियोना गांव में कर्ज से परेशान किसान ने खुदकुशी कर ली। बताया जा रहा है कि किसान पर करीब सात लाख रुपए का कर्ज था, जिस वजह से किसान  काफी लंबे वक्त से परेशान चल रहा था। आखिरकार किसान ने ट्रेन के आगे कुदकर खुदकुशी कर ली। दूसरा मामला खन्ना से सामने आया है, यहां 28 साल के किसान कुलदीप सिंह ने तीन लाख रुपए के कर्ज

चंडीगढ़ पंजाब में किसानों की कर्ज माफी के लिए सरकार ने एक कमेटी गठित की है, जो किसानों की कर्ज माफी की समीक्षा कर 60 दिन में सरकार के सामने रिपोर्ट पेश करेगी. वहीं, डॉक्टर टी हक को तीन सदस्यों की इस कमेटी का चेयरमैन बनाया गया है. इनके साथ प्रमोद कुमार जोशी, बलविंदर सिंह सिद्धू को भी कमेटी का सदस्य बनाया गया है. ये कमेटी कर्ज माफी पर सरकार को सुझाव देगी.

लखनऊ यूपी में सीएम योगी मंगलवार को कैबिनेट की दूसरी बैठक हुई. इस बैठक में 24 घंटे बिजली देने के अलावा रोस्टर प्रणाली को जमीनी स्तर पर लागू करने को मंजूरी दी गई. बैठक में लिए गए फैसलों की जानकारी देते हुए कैबिनेट मंत्री श्रीकांत शर्मा ने कहा की सरकार किसानों के प्रति समर्पित है. अक्टूबर 2018 तक हर जगह 24 घंटे बिजली दी जाएगी. इससे पहले गांवों को 18 घंटे, तहसील मुख्यालय को 20 घंटे बिजली दी जाएगी. साथ ही बुंदेलखंड को भी 20 घंटे बिजली दी जाएगी. इसके अलावा जिला मुख्यालय को 24 घंटे बिजली दी जाएगी. उन्होंने आगे कहा कि