पंजाब पुलिस राज्य में गैंगस्टर्ज की गतिविधियों पर अंकुश लगाने में पूरी तरह सक्षम और तैयार है। जानकारी देते हुए पंजाब के डीजीपी  सुरेश अरोड़ा ने कहा कि पुलिस बहुत से गैंगस्टर को काबू कर चुकी है। अरोड़ा ने बताया कि राज्य में गैंगस्टर्ज को कैटागराइज किया गया है। ए-श्रेणी में 12 व बी-श्रेणी में 10 गैंगस्टर्ज राज्य में सक्रिय हैं। उन्होंने कहा कि कुछ समय पूर्व गिरफ्तार 3 गैंगस्टर्ज से 4 शस्त्र भी बरामद किए गए थे। प्रभावी कानून न होने के चलते ये एक महीने के अंदर ही जमानतों पर बाहर आ गए। अरोड़ा ने कहा कि गैंगस्टर्ज की

नशा, गैंगस्टर व आतंकवाद के हिमायती गर्मख्याली (रेडिकल्स स्पांसर टेरेरिज्म) पंजाब में पुलिस के लिए बड़ी चुनौती हैं, लेकिन पंजाब पुलिस पूरी तरह से इन पर नकेल कसने में जुटी हुई है. पंजाब के घर-घर से नशे को खत्म करने व नशा तस्करों को जेल की सलाखों के पीछे पहुंचाने के लिए मुहिम जारी है. यह बात डीजीपी सुरेश अरोड़ा ने वीरवार को कही. पुलिस लाइन में जिले के पुलिस अधिकारियों के साथ बैठक करके उन्होंने क्राइम को कम करने संबंधी योजनाओं पर अमल करने, नशा तस्करों पर सख्ती से नकेल डालने, पुलिस स्टेशनों की नियमित जांच करने सहित अन्य महत्वपूर्ण