हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह की मनी लॉन्ड्रिंग केस को रद्द करने की याचिका पर आज दिल्ली हाईकोर्ट ने अपना फैसला सुनाया। हाईकोर्ट ने वीरभद्र सिंह की याचिका को खारिज कर दिया है। दरअसल, सीएम वीरभद्र ने याचिका लगाकर मांग की थी कि उनपर ED की और से दर्ज FIR को रद्द कर दिया जाए। हाईकोर्ट ने दोनों पक्षों की तरफ से दलीलें सुनने के बाद अपना फैसला सुरक्षित रख लिया था। मगर सोमवार को कोर्ट ने वीरभद्र सिंह की याचिका को खारिज कर दिया।

दिल्ली हाईकोर्ट ने एमसीडी चुनावों में वीवीपैट के इस्तेमाल किए जाने की अपील खारिज कर दी है. आम आदमी पार्टी ने इस संबंध में हाईकोर्ट में अपील की थी. हाईकोर्ट ने कहा है कि ये संभव नहीं है कि चुनावों के ऐन पहले ऐसा कोई आदेश दिया जाए. जस्टिस ए के पाठक ने कहा है कि वोटर वेरीफाइड पेपर ऑडिट ट्रेल (वीवीपैट) की सुविधा वाली ईवीएम की जेनरेशन 2 और जेनरेशन 3 की मशीनों को इतनी जल्दी चुनावी प्रक्रिया में नहीं लगाया जा सकता है. आम आदमी पार्टी की तरफ से हाईकोर्ट में ये अपील मोहम्मद ताहिर हुसैन ने दाखिल की थी. ताहिर