कांग्रेस की वरिष्‍ठ नेता और दिल्‍ली में लगातार तीन बार मुख्‍यमंत्री रहने वाली शीला दीक्षित ने एमसीडी चुनावों में कांग्रेस की करारी हार के बाद पार्टी को सलाह देते हुए कहा है,''यह जनता का जनादेश है, इसे सम्‍मान के साथ स्‍वीकार किया जाना चाहिए.'' कांग्रेस एमसीडी चुनावों में तीसरे पायदान पर रही. बीजेपी ने दो तिहाई बहुमत के साथ जीत हासिल की है. अरविंद केजरीवाल की आप दूसरे स्‍थान पर रही. शीला दीक्षित से जब कांग्रेस की हार के बारे में पूछा गया तो उन्‍होंने कहा कि कांग्रेस ने दरअसल आक्रामक प्रचार नहीं किया. इस वजह से कांग्रेस पिछड़ गई. कांग्रेस

दिल्ली दिल्‍ली महिला कांग्रेस की पूर्व अध्‍यक्ष बरखा शुक्‍ला सिंह शनिवार को बीजेपी में शामिल हो गईं. एक दिन पहले ही कांग्रेस से निकाली गई बरखा शुक्ला सिंह दोपहर करीब 1 बजे बीजेपी में शामिल हो गईं. एमसीडी चुनाव से ऐन पहले दिल्‍ली प्रदेश कांग्रेस के पूर्व अध्‍यक्ष अरविंदर लवली के बाद बरखा का बीजेपी में शामिल होना कांग्रेस के लिए बड़ा झटका माना जा रहा है. रविवार यानी 23 अप्रैल को एमसीडी के 271 वार्डों के लिए मतदान होने जा रहा है. इससे पहले दिल्ली महिला कांग्रेस की अध्यक्ष बरखा सिंह ने गुरुवार को अपने पद से इस्तीफा दे दिया और राहुल

दिल्ली एमसीडी चुनावों से पहले कांग्रेस की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं. अरविंदर सिंह लवली के बाद अब दिल्ली प्रदेश महिला कांग्रेस अध्यक्षा बरखा शुक्ला सिंह ने भी अपना इस्तीफा दिया है. गुरुवार को बरखा ने अपना इस्तीफा सोनिया गांधी के पास भेज दिया है. बरखा ने दिल्ली कांग्रेस अध्यक्ष अजय माकन और कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी पर कई तरह के आरोप भी लगाए. बरखा ने कहा कि अगर राहुल गांधी से पार्टी नहीं संभल रही तो वह छोड़ दें. बरखा ने कहा कि अगर राहुल गांधी को अध्यक्ष बनाया गया तो यह डिजास्टर होगा. बरखा ने अजय माकन