मध्य प्रदेश की आग अब हरियाणा और पंजाब तक पहुंच गई है। पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने केंद्र सरकार से किसानों की खस्ता हालत को लेकर गुहार लगाई है। सीएम कैप्टन ने मांग की है कि किसानों की कर्ज माफी को लेकर केंद्र सरकार जल्द ही जरूरी कदम उठाए। साथ ही उन्होंने कहा कि स्वामीनाथन रिपोर्ट के मुताबिक ही किसानों की फसलों की एमएसपी तय की जाए।

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने आज केंद्रीय मंत्री वेंकैया नायडू से मुलाकात की. इस दौरान पंजाब से जुड़ी कई परियोजनाओं पर बातचीत हुई। इस मौके पर  कैप्टन अमरिंदर सिंह ने अफोर्डेबल हाउजिंग स्कीम, रेरा कानून को लागू करने और स्मार्ट सिटी के बारे में नायडू से चर्चा की.  

चंडीगढ़ में पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह हायर एजुकेशन को लेकर अधिकारियों के साथ बैठक करेंगे। बैठक पंजाब सचिवालय में होगी। इस बैठक में सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह अधिकारियों के साथ हायर एजुकेशन को लेकर चर्चा करेंगे।

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने श्री हरी मंदिर साहिब में मत्था टेका और गुरुघर की खुशियां प्राप्त की। उनके साथ पंजाब कांग्रेस के नए अध्यक्ष सुनील जाखड़ समेत पार्टी के सभी विधायक और सांसद भी मौजूद रहे। सीएम बनने के बाद पहली बार कैप्टन अमरिंदर सिंह श्री हरी मंदिर साहिब पहुंचे। इसके बाद कैप्टन दुर्गियाना मंदिर भी पहुंचे और वहां उन्होंने मत्था टेका। कैप्टन ने इस दौरान जलियांवाला बाग में शहीदों को श्रद्धांजलि दी।    

पंजाब में वीआईपी कल्चर को लेकर आज मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह रिव्यू मीटिंग लेंगे। जानकारी के मुताबिक इस मीटिंग में पंजाब के डीजीपी और एडीजीपी भी मौजूद रहेंगे। बैठक में प्रदेश में सुरक्षा व्यवस्था को लेकर भी बात की जाएगी। इसके अलावा सीएम अमरिंदर सिंह बैठक में जरूरी निर्देश भी देंगे।

कनाडा के रक्षा मंत्री हरजीत सिंह सज्जन अप्रैल के आखिर में भारत दौरे पर होंगे. इस दौरान वह अमृतसर भी जाएंगे. पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने कहा है कि वह कनाडा के रक्षा मंत्री से मुलाकात करने से मना कर दिया है. अमरिंदर सिंह ने कहा कि हरजीत सिंह और उनके पिता खालिस्तान के समर्थक रहे हैं, इसलिए उनसे मुलाकात करने का सवाल नहीं उठता. 20 अप्रैल को भारत आयेंगे सज्जन एक चैनल से बातचीत के दौरान अमरिंदर ने कहा कि कनाडा की जस्टिन ट्रूडो की सरकार में सज्जन समेत कुल 5 मंत्री खालिस्तानी समर्थक हैं, इसलिये उनकी यात्रा के प्रति

केंद्रीय खाद्य प्रसंस्करण मंत्री हरसिमरत कौर बादल ने मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह से ओंटोरियो जैसा बिल लाने के लिए विधानसभा का विशेष सत्र बुलाने की मांग की है। ओंटारियो की संसद ने भारत में 1984 के सिख कत्लेआम को नरसंहार करार दिया था। हरसिमरत ने कहा कि मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह को भी विधानसभा का विशेष सत्र बुलाकर वैसा ही प्रस्ताव पारित करना चाहिए। सोमवार को जारी एक बयान में हरसिमरत ने कहा कि पंजाब विधानसभा के प्रस्ताव में ओंटारियो संकल्प के सार की झलक दिखाई देनी चाहिए, जिसमें सत्य और न्याय को स्वीकार किया गया है। उन्होंने कहा कि यह