बक्सर जिले के डीएम मुकेश पांडेय की आत्महत्या की खबर सुनते ही उनके पैतृक जिले सारण के दरियापुर के सांझा गांव में मातम फैल गया है, किसी को भरोसा नहीं हो रहा है कि खुशमिजाज और मिलनसार मुकेश ने सुसाइड कर लिया है । सबकी जुबां पर एक ही सवाल है कि सिविल सर्विस में 14वीं रैंक लाकर आईएएस बनने वाले मुकेश ने ऐसा क्यों किया? पूरे गांव में इस बात की चर्चा लोग कर रहे हैं। डीएम बनने पर गांव के जिस बेटे पर लोग फक्र कर रहे थे, उसकी मौत के बाद अब सबकी आंखें नम हैं। मुकेश की दादी