अमृतसर के मजीठा रोड से सटे इलाके तुंग बाला में चोटी कटने का मामला सामने आया है। दरअसल, 12 साल की एक बच्ची अपने घर में टीवी देख रही थी, तभी वो टॉयलेट जाने के लिए कमरे से बाहर निकली और अचानक बेहोश हो गई। जब उसको होश आया तो उसके बाल कटे हुए थे। कटे बाल देखकर बच्ची चिल्लाने लगी इस घटना के बाद इलाके में दहशत फैल गई। उधर, पुलिस मामले की जांच कर रही है।

हिमाचल में भी चोटी कटने का पहला मामला सामने आया है। सोलन के नौंणी के एक गांव में स्कूली छात्रा के बाल कटने से हड़कंप मच गया है। प्रारंभिक सूचना के अनुसार यह छात्रा देर रात अपने घर के अंदर कमरे में सो रही थी। सुबह के समय जब इसकी आंख खुली तो चोटी कट चुकी थी। ये सब कैसे हुआ और किसने किया, इसका छात्रा को कोई पता तक नहीं चला। हैरानी की बात तो ये है कि छात्रा का कमरा पूरी तरह से बंद था। ऐसे में कौन कमरे में आकर चोटी काट गया, इसका कोई पता नहीं चल पाया

पंजाब में महिलाओं की चोटियां कटने की घटनाएं रुकने का नाम नहीं ले रहीं हैं। सोमवार को 12 महिलाओं की चोटियां कटने की घटनाएं सामने आई। जबकि तीन सिख युवकों के बाल भी काटे गए। बठिंडा में सर्वाधिक 6, मुक्तसर में 3, फिरोजपुर, फरीदकोट और बरनाला में एक-एक मामला सामने आया है। बठिंडा, तरनतारन और बरनाला में तीन सिख युवकों के बाल काटे के मामले सामने आए। पुलिस के लिए इन मामलों को सुलझाना बड़ी चुनौती बन गया है। अभी तक कोई गिरफ्तारी नहीं हो पाई है। पुलिस अभी तक इन मामलों को शरारत व अफवाह ही मानकर चल रही है। बठिंडा