10वीं और 12वीं कक्षा में दस फीसदी से कम परीक्षा परिणाम देने वाले सरकारी स्कूलों के प्रिंसिपलों की इंक्रीमेंट रोकी जाएगी. आपको बता दें कि उच्च शिक्षा निदेशालय ने स्कूल शिक्षा बोर्ड से एक हफ्ते के भीतर दोनों बोर्ड कक्षाओं के परीक्षा परिणाम का पूरा ब्योरा तलब कर लिया है। बोर्ड कक्षाओं में बेहतर नतीजे नहीं देने वाले शिक्षकों पर दबाव बनाने का दौर फिर शुरू हो गया है. पिछले साल भी शिक्षा विभाग ने खराब परिणाम देने वाले शिक्षकों को सस्पेंड करने, इंक्रीमेंट रोकने और तबादले करने की चेतावनियां दी गईं थी. लेकिन कार्रवाई के नाम पर कुछ भी नहीं

शिमला हिमाचल प्रदेश बोर्ड ऑफ स्कूल एजुकेशन ने 12वीं बोर्ड परीक्षा का रिजल्ट घोषित कर दिया है. परीक्षा में बड़ी संख्या में विद्यार्थियों ने भाग लिया था. अब इन विद्यार्थियों का इंतजार खत्म हो गया है. विद्यार्थी अपना रिजल्ट hpbose.org पर देख सकते हैं. बोर्ड के सचिव डॉ. विशाल शर्मा ने बताया कि कुल परीक्षा परिणाम 72.89 प्रतिशत रहा. बोर्ड ने इस बार 27 दिनों में 12वीं का परीक्षा परिणाम घोषित कर दिया है. बोर्ड ने अपनी वेबसाइट पर परीक्षा के टॉपर्स की भी लिस्ट जारी की है. शर्मा ने बताया, जो परीक्षार्थी पुनर्मूल्यांकन/पुनर्निरीक्षण करवाना चाहते हैं वह परीक्षार्थी प्रति उत्तर पुस्तिका पुनर्मूल्यांकन