बहादुरगढ़ स्थित एक फैक्ट्री में काम के दौरान करंट लगने से एक कर्मचारी की मौत हो गई। बेटे की मौत की सूचना पर सदमे में पिता की भी मौत हो गई। एक साथ दो मौतों से परिवार पर दुखों का पहाड़ टूट गया। जानकारी के मुताबिक बराही गांव का रहने वाला रणजीत नाम का एक व्यक्ति एक फैक्ट्री में इलेक्ट्रिशियन का काम करता था। जहां करंट लगने से गंभीर रूप से घायल हो गया। उसे शहर के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया, लेकिन डॉक्ट्रस ने उसे मृत घोषित कर दिया। हादसे की सूचना जैसी ही पिता को मिली तो

बहादुरगढ़ में बामडोली गांव के सरपंच की अज्ञात बदमाशों ने गोली मारकर हत्या कर दी और वारदात को अंजाम देने के बाद मौके से फरार हो गए। घटना बहादुरगढ़ के नाहरा नाहरी रोड पर बमडोली गांव के पास हुई। पुलिस ने बताया कि, बाइक पर सवार बदमाशों ने पहले सरपंच की स्कोर्पियो गाड़ी को रुकवाया और फिर उस पर फायरिंग कर दी। घटना के वक्त सरपंच का ड्राइवर भी मौजूद था, जो फायरिंग में बाल-बाल बच गया। फिलहाल पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। पुलिस मामले को चुनावी रंजिश से जोड़कर देख रही है।