अयोध्या में विवादास्पद बाबरी ढांचा गिराए जाने के मामले में लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी और उमा भारती समेत सभी 12 आरोपियों को मंगलवार को जमानत मिल गई. विशेष सीबीआई अदालत में आरोपियों को 50-50 हजार रुपये के निजी मुचलके पर जमानत दे दी गई. आरोपियों ने डिस्चार्ज ऐप्लिकेशन देकर अपने खिलाफ चार्ज खारिज करने की मांग की थी. उनका कहना है कि ढांचा गिराए जाने में उनकी कोई भूमिका नहीं है. कोर्ट ने यह मांग खारिज कर दी. इसका मतलब यह है कि इनके खिलाफ आरोप तय किए जाएंगे और साजिश से जुड़ी धारा भी जोड़ी जाएगी. आपको बता दें कि