लखनऊ में प्रेस कांफ्रेंस को संबोधित करते हुए बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि मोदी सरकार के तीन साल और योगी सरकार के 3 महीने एक साथ पूरे हो रहे हैं. अमित शाह ने कहा कि अयोध्या में राम मंदिर जरूर बनेगा, इसका जिक्र हमारे घोषणा पत्र में भी था. पिछले 3 साल में देश ने परिवर्तन महसूस किया है, वहीं कांग्रेस की सरकार में 12 लाख करोड़ रुपये के घोटाले हुए थे. अमित शाह ने कहा कि हमने निर्णय लेने वाली सरकार देश को दी, कांग्रेस सरकार में निर्णय लेने की कमी रही. क्रॉस बॉर्डर व्यापार पर अमित शाह

दिल्ली तीन तलाक के मामले पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई मंगलवार को भी जारी रही. इस दौरान मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड का पक्ष रखते हुए कपिल सिब्बल ने अदालत से कहा कि तीन तलाक की प्रथा 1400 सालों से चली आ रही है, ऐसे में यह असंवैधानिक कैसे हो सकती है. अगर अयोध्या में राम का जन्म आस्था का विषय है तो तीन तलाक क्यों नहीं? इससे पहले केंद्र सरकार ने सोमवार को सुप्रीम कोर्ट में कहा कि यदि सुप्रीम कोर्ट तीन तलाक प्रथा को पूरी तरह खत्म कर देती है तो सरकार इसके लिए कानून बनाएगी. इसके साथ ही कहा कि

कई वर्षों से बंद अयोध्या की प्रसिद्ध रामलीला फिर शुरू होगी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने यह निर्देश देते हुए कहा है कि मथुरा में रासलीला और चित्रकूट में भजन संध्या सुचारु ढंग से कराई जाए। उन्होंने धार्मिक स्थलों की सुरक्षा हेतु चहारदीवारी बनाने के साथ ही एप्रोच मार्ग ठीक कराने के निर्देश दिए। अयोध्या में रामलीला का मंचन कई साल से बंद पड़ा है, जिसे फिर से शुरू करने के निदेर्श मुख्यमंत्री ने दिए हैं। मुख्यमंत्री ने काशी विश्वनाथ मन्दिर में ई-पूजा, ई-डोनेशन प्रक्रिया शुरू करने पर भी जोर दिया। उन्होंने कहा कि अयोध्या में 14.77 करोड़ रुपए की लागत से

अयोध्या (यूपी) राम मंदिर निर्माण को लेकर चली आ रही चर्चा के बीच गुरुवार शाम को मुस्लिम कारसेवक मंच के सदस्य अयोध्या पहुंचे. राम मंदिर निर्माण के अभियान के तहत अयोध्या पहुंचे मुस्लिम कारसेवक मंदिर बनाने के लिए अपने साथ एक ट्रक ईंट भी लाए. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, करीब 50 की संख्या में रामलला के दर्शन करने पहुंचे कार सेवकों ने ईटों से भरे ट्रक को पूरे शहर में घूमाकर ‘जय श्री राम’ और ‘मंदिर वहीं बनाएंगे’ के नारे लगाए. उनका कहना है कि राम मंदिर वहीं बनाया जाना चाहिए, इससे देश का निर्माण होगा. हालांकि, पुलिस ने कारसेवकों को विवादित परिसर