पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह आज मानसा के दौरे पर हैं। उन्होंने मानसा जिले में कपास पर सफेद मक्खी के हमले को देखते हुए खुद जाकर किसानों से मुलाकात की। कैप्टन ने एग्रीकल्चर डिपार्टमेंट के अफसरों से किसानों को हर संभव मदद पहुंचाने के भी आदेश दिए हैं।

पंजाब कैबिनेट की बैठक में कई महत्वपूर्ण फैसलों पर मुहर लगाई गई. मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह की अध्यक्षता में हुई इस बैठक में 14 से जून तक बजट सत्र चलाने का निर्णय लिया गया. इसके अलावा पेंशन और सामाजिक सुरक्षा की योजनाओं का लाभ लेने को पात्रता के लिए वार्षिक आय की सीमा 60 हजार रुपय तक बढ़ाई गई. राज्य में रियल एस्टेट रेगुलेटरी अथॉर्टी के क्रियान्न के लिए अधिसूचना को भी मंजूरी दी गई. कैबिनेट ने वृद्धावस्था पेंशन और अन्य  सामाजिक सुरक्षा योजनाओं के अधीन भुगतान सीधा बैंक खातों द्वारा करने का निर्णय लिया है. इससे पहले ग्रामीण इलाकों में लाभों

मध्य प्रदेश की आग अब हरियाणा और पंजाब तक पहुंच गई है। पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने केंद्र सरकार से किसानों की खस्ता हालत को लेकर गुहार लगाई है। सीएम कैप्टन ने मांग की है कि किसानों की कर्ज माफी को लेकर केंद्र सरकार जल्द ही जरूरी कदम उठाए। साथ ही उन्होंने कहा कि स्वामीनाथन रिपोर्ट के मुताबिक ही किसानों की फसलों की एमएसपी तय की जाए।

चंडीगढ़ में पीएचडी चैंबर में सेशन विद कैप्टन कार्यक्रम के दौरान पंजाब सीएम ने उद्योगपतियों से मुलाकात की और उनकी समस्याएं सुनी. इस दौरान कैप्टन अमरिंदर सिंह ने अपने संबोधन में कहा कि प्रदेश में उद्योग के लिए काम जारी है. सरकार के साथ वित्तिय समस्या है, जिसे लेकर श्वेत पत्र ला रहे हैं. कैप्टन ने कहा कि वित्तिय स्थिति का हवाला देकर हम अपने वादों से बचना नहीं चाहते हैं. उन्होंने कहा कि हम इंडस्ट्री को आगे लेकर जाएंगे. इस दौरान उन्होंने कहा कि किसानों का कर्जा घटाया जाएगा और इसके लिए हाईपावर कमेटी का गठन किया गया है.इसके अलावा कैप्टन

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने आज केंद्रीय मंत्री वेंकैया नायडू से मुलाकात की. इस दौरान पंजाब से जुड़ी कई परियोजनाओं पर बातचीत हुई। इस मौके पर  कैप्टन अमरिंदर सिंह ने अफोर्डेबल हाउजिंग स्कीम, रेरा कानून को लागू करने और स्मार्ट सिटी के बारे में नायडू से चर्चा की.  

चंडीगढ़ में पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह हायर एजुकेशन को लेकर अधिकारियों के साथ बैठक करेंगे। बैठक पंजाब सचिवालय में होगी। इस बैठक में सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह अधिकारियों के साथ हायर एजुकेशन को लेकर चर्चा करेंगे।

पंजाब सरकार ने शहीद परमजीत सिंह के परिजनों के लिए आर्थिक मदद का भी एलान कर दिया है। पंजाब सरकार परमजीत सिंह के परिजनों को बारह लाख की आर्थिक मदद देगी। इसके अलावा परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी भी दी जाएगी और शहीद के बच्चों की पढ़ाई का सारा खर्च पंजाब सरकार उठाएगी। इसके अलावा मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह रविवार को शहीद परमजीत के परिजनों से मुलाकात करने के लिए तरनतारन में उनके पैतृक गांव भी जाएंगे।

पंजाब में मेडिकल शिक्षा को प्रोत्साहन देने और डॉक्टरों की कमी से निपटने के लिए मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने मोहाली में मेडिकल कॉलेज के निर्माण को सैद्धांतिक मंजूरी दे दी है। 100 सीटों वाला ये मेडिकल कॉलेज, कांग्रेस के चुनाव मेनिफेस्टो में प्रदेश में मेडिकल कॉलेज स्थापित करने के वादों की तरफ पहल कदम है। प्रदेश सरकार इस संबंध में केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण को पूरी रिपोर्ट देगा। 200 बेड का अस्पताल कम मेडिकल कॉलेज 20 एकड़ में फैला होगा, जिसको बनाने में 190 करोड़ रुपए की लागत आएगी।

पंजाब में वीआईपी कल्चर को लेकर आज मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह रिव्यू मीटिंग लेंगे। जानकारी के मुताबिक इस मीटिंग में पंजाब के डीजीपी और एडीजीपी भी मौजूद रहेंगे। बैठक में प्रदेश में सुरक्षा व्यवस्था को लेकर भी बात की जाएगी। इसके अलावा सीएम अमरिंदर सिंह बैठक में जरूरी निर्देश भी देंगे।

कनाडा के रक्षा मंत्री हरजीत सिंह सज्जन अप्रैल के आखिर में भारत दौरे पर होंगे. इस दौरान वह अमृतसर भी जाएंगे. पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने कहा है कि वह कनाडा के रक्षा मंत्री से मुलाकात करने से मना कर दिया है. अमरिंदर सिंह ने कहा कि हरजीत सिंह और उनके पिता खालिस्तान के समर्थक रहे हैं, इसलिए उनसे मुलाकात करने का सवाल नहीं उठता. 20 अप्रैल को भारत आयेंगे सज्जन एक चैनल से बातचीत के दौरान अमरिंदर ने कहा कि कनाडा की जस्टिन ट्रूडो की सरकार में सज्जन समेत कुल 5 मंत्री खालिस्तानी समर्थक हैं, इसलिये उनकी यात्रा के प्रति