उत्तरप्रदेश के बाद बिहार में भी अवैध बूचड़खानों पर लगाम लगाने की तैयारी शुरू हो गई है। पशु और मत्स्य पालन मंत्री पशुपति कुमार पारस ने शनिवार को करीब 140 अवैध बूचड़खानों को बंद करने की बात कही। बिहार के मंत्री ने कहा, 'मैंने डिपार्टमेंट के सचिव से राज्य के सभी बूचड़खानों की रिपोर्ट तैयार करने को कहा है। इनमें लाइसेंस वाले और अवैध बूचड़खानों को शामिल किया जाएगा। रिपोर्ट और नियमों के आधार पर सभी अवैध बूचड़खाने बंद करने की बात कही।' बताया जा रहा है कि नियमों के मुताबिक, सिफ्र दो बूचड़खाने ही वैध हैं जिनमें एक अरारिया जिले