भाजपा सांसद अनुराग ठाकुर को सुप्रीम कोर्ट से बड़ी राहत मिली है. सुप्रीम कोर्ट ने हिमाचल प्रदेश सरकार की उस याचिका को खारिज कर दिया है, जिसमें अनुराग ठाकुर को आपराधिक मामले में बरी करने के हाईकोर्ट के फैसले को चुनौती दी गई थी. न्यायमूर्ति एके गोयल और न्यायमूर्ति यूयू ललित की पीठ ने गत वर्ष 30 मई को हिमाचल प्रदेश हाईकोर्ट द्वारा दिए गए फैसले में दखल देने से इनकार कर दिया है. उससे पहले राज्य सरकार की ओर से पेश वकील ने पीठ के समक्ष कहा कि अनुराग ठाकुर समेत अन्य लोगों के खिलाफ मुकदमा निरस्त करने का हाईकोर्ट