चुनाव आयोग ने ईवीएम हैकिंग के आरोपों को सही साबित करने के लिए राजनीतिक दलों को खुली चुनौती देने की तैयारी कर ली है. आयोग इसकी तारीख, स्थान और रूपरेखाओं की घोषणा आज (शनिवार) दोपहर में करेगा. चुनौती के दौरान, राजनीतिक दलों और तकनीकी विशेषज्ञों को यह साबित करने का एक अवसर मिलेगा कि ईवीएम से छेड़छाड़ किया जा सकता है. आयोग के प्रवक्ता ने शुक्रवार को बताया कि मुख्य चुनाव आयुक्त नसीम ज़ैदी के संवाददाता सम्मेलन से पहले आयोग वीवीपीएटी युक्त ईवीएम की कार्यप्रणाली का मीडिया के समक्ष सजीव प्रदर्शन करेगा. निर्वाचन आयोग की घोषणा के मुताबिक, ईवीएम वीवीपैट की कार्यप्रणाली प्रदर्शित