नर्मदा सेवा यात्रा के समापन समारोह को संबोधित करते हुए पीएम नरेंद्र मोदी ने आज कहा कि जिस मां नर्मदा ने हमें बचाया है उसे बचाने की जिम्मेदारी हम सबकी है. आज देश में कई नदियां सिर्फ नक्शे में बची हैं इसलिए जरूरी है कि नदी संरक्षण को पुण्य काम के तौर पर अपनाकर नर्मदा को बचाया जाए. पीएम ने कहा कि हमने मां नर्मदा की नहीं, हमेशा अपनी परवाह की. जबकि कहते हैं, नर्मदा की परिक्रमा से अहंकार चूर-चूर हो जाता है. मां नर्मदा एक-एक पौधे के प्रताप से प्रकट होती है. और गुजरात तो नर्मदा के एक-एक बूंद की