गुरमीत राम रहीम सिंह अपने माता-पिता की इकलौती संतान हैं. इनका जन्म 15 अगस्त, 1967 को राजस्थान के श्रीगंगानगर जिले के गुरुसर मोदिया में जाट सिख परिवार में हुआ था. राम रहीम के पिता का नाम मघर सिंह और मां का नाम नसीब कौर है. उनकी तीन बेटियां और एक बेटा है. इनमें से एक बेटी को राम रहीम ने गोद लिया है. सन् 1990 में उन्होंने एक सत्संग के दौरान संन्यास लिया था. राम रहीम को 7 साल की उम्र में ही 31 मार्च, 1974 को तत्कालीन डेरा प्रमुख शाह सतनाम सिंह जी ने नाम दिया था. 23 सितंबर, 1990 को

चंडीगढ़ डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह के खिलाफ चल रहे साध्वी यौन शोषण मामले में 25 अगस्त फैसला आना है। फैसला पंचकूला सीबीआइ कोर्ट सुनाएगी। इसके मद्देनजर प्रशासन जहां पर्याप्त चौकसी बरत रहा है, वहीं डेरा प्रेमी पंचकूला में एकत्र होने शुरू हो गए हैं। डेरा प्रेमी मंगलवार देर रात से शहर में धारा 144 लागू होने के बावजूद सेक्टर 23 स्थित नामचर्चा घर व आसपास के इलाके में डटे हैं। इनकी संख्या करीब 50 हजार से ज्यादा है। अभी डेरा प्रेमियों के आने का क्रम जारी है। डेरा प्रेमी न जुटें इसके लिए सीमाएं सील कर दी गई