अफगानिस्तान की राजधानी काबुल के पश्चिमी क्षेत्र में सोमवार सुबह करीब सात बजे एक कार बम हमले में कम से कम 35 लोग मारे गये और 40 अन्य घायल हो गये. हमले की जिम्मेदारी तालिबान ने ली है. पश्चिमी काबुल में आज सरकारी कर्मचारियों को लेकर जा रही बस को एक कार बम से निशाना बनाया गया. इस हमले की जानकारी गृह मंत्रालय के प्रवक्ता नजीब दानिश ने दी. दानिश ने कहा, सुबह भीड़-भाड़ के वक्त खनन मंत्रालय के कर्मचारियों को लेकर जा रही बस को कार बम से निशाना बनाया गया. हमले की जिम्मेदारी तालिबान ने ली है. गौरतलब है

अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में अफगानिस्तान की खुफिया एजेंसी राष्ट्रीय सुरक्षा निदेशालय (एनडीएस) ने पाकिस्तान दूतावास के दो कर्मचारियों को हिरासत में लिया,  हालांकि अभी यह स्पष्ट नहीं हो पाया है कि उन्हें किन परिस्थितियों में हिरासत में लिया गया. पाक मीडिया के अनुसार, पहले से ही बिगड़े पाकिस्‍तान-अफगानिस्‍तान संबध ने बुधवार को और बदतर रूप ले लिया जब अफगानिस्‍तान की जासूसी एजेंसी ने पाकिस्‍तान दूतावास के दो स्‍टाफ को हिरासत में ले घंटों तक प्रताड़ित किया। हालांकि तीन घंटे के बाद उन्‍हें रिहा कर दिया गया. कुलभूषण जाधव मामले में 1961 में हुए कूटनीतिक संबंधों के समझौते का उल्‍लंघन का आरोप