मारे गए आतंकी बुरहान वानी की बरसी पर हंगामे की आशंका को देखते हुए अलगाववादी नेताओं के खिलाफ सुरक्षा बलों ने धरपकड़ अभियान चला रखा है. हुर्रियत नेता मीरवाइज उमर फारूक और सैयद अली शाह गिलानी को उनके घर में ही नजरबंद कर दिया गया है. दूसरी ओर यासीन मलिक को सुरक्षा बलों ने गिरफ्तार किया है. इनके अलावा अन्य स्थानीय नेताओं को भी गिरफ्तार किया गया है. बुरहान वानी की बरसी पर कश्मीर के आईजीपी मुनीर खान ने कहा कि अलगाववादी नेताओं की ओर से हंगामे की आशंका को देखते हुए सुरक्षा बढ़ा दी गई है. हालांकि इंटरनेट ब्लॉक करने को लेकर