अमेरिका की प्रतिनिधि सभा ने रूस, ईरान और उत्तर कोरिया पर प्रतिबंध लगाने के लिए मतदान किया. अमेरिका और उसके सहयोगियों को कमजोर करने वाले रूस, ईरान और उत्तर कोरिया के खतरनाक एवं युद्धकारी कदमों के खिलाफ नए प्रतिबंध लगाने के लिए भारी मतदान किया गया. अमेरिकी कांग्रेस के निचले सदन ने कल तीन के मुकाबले 419 मतों से रूस, ईरान और उत्तर कोरिया प्रतिबंध विधेयक को पारित किया. इस विधेयक का उद्देश्य अमेरिका के राष्ट्रपति के चुनाव में हस्तक्षेप करने और यूक्रेन एवं सीरिया में मास्को की सैन्य आक्रामकता के लिए उसे दंडित करना है. इसका मकसद ‘‘आतंकवाद को समर्थन

भारतीय सेना के सीमापार कड़ी कार्रवाई करते हुए पाकिस्तान की एक पोस्ट को तबाह करने के बाद  अमेरिका के रक्षा सुरक्षा प्रमुख न का एक बयान सामने आया है. उन्होंने अमेरिकी संसद की एक समिति को बताया कि भारत एक ओर पाकिस्तान को राजनयिक मुद्दे पर अलग-थलग करने की कोशिशों में जुटा है तो वहीं दूसरी ओर सीमापार आतंकवाद का समर्थन करने के लिए पाक के खिलाफ सख्त कार्रवाई की तैयारी भी कर रहा है आपको बता दें कि इस बीच डोनाल्ड ट्रम्प प्रशासन ने पाकिस्तान को दी जाने वाली करीब 1200 करोड़ रु. की मदद में कटौती की है. लेफ्टिनेंट जनरल