बीएसएफ ने अटारी-बाघा ज्वाइंट चेक पोस्ट के नजदीक देश का सबसे ऊंचा तिरंगा झंडा फहराया. 360 फुट ऊंचे इस तिरंगे को अमृतसर के साथ-साथ लाहौर से भी देखा जा सकता है. यहां से अमृतसर और लाहौर करीब 18 किमी की दूरी पर हैं. 120 गुना 80 फुट के तिरंगे का वजन 100 किलो है. वहीं, तिरंगे के खंभे का वजन 5,500 किलो है. इसे 3.5 करोड़ की लागत से तीन महीने में बनाया गया है. पाकिस्तान ने अटारी बॉर्डर के नजदीक फहराये गये तिरंगे पर ऐतराज जताया है. हालांकि, बीएसएफ ने पाकिस्तान की आपत्तियों को खारिज करते हुए कहा कि तिरंगा

पिछले 4 महीनों से वेतन न मिलने के कारण सरकार से नाराज राज्य के 1100 सर्व शिक्षा अभियान दफ्तरी कर्मचारियों (एस.एस.ए.) ने सरकार के विरुद्ध अनोखा विरोध व प्रदर्शन तेज करते हुए सरकारी दफ्तरों की दीवारों पर पंजाब सरकार का खजाना भरने के लिए राज्य के लोगों से ‘दान’ की मांग करने वाले पोस्टर लगाए हैं। मुलाजिमों का कहना है कि सरकार खजाना खाली होने की दुहाई देकर मुलाजिमों के रुके वेतन जारी करने में टाल-मटोल की नीति अपना रही है, जिसके कारण मुलाजिमों ने विरोध का नया तरीका ढूंढ लिया है। दूसरी तरफ इन कर्मियों द्वारा राजधानी चंडीगढ़ में

पंजाब शराब पीने के मामले में यह शीर्ष पर नहीं। देश के सबसे बड़े स्वास्थ्य सर्वेक्षण ने पाया है कि इस मामले में 17 दूसरे राज्य पंजाब से आगे हैं। उधर, गुजरात में लंबे समय से शराब बंदी के बावजूद यहां 11 फीसदी पुरुष नियमित शराब पीते हैं। जबकि जम्मू-कश्मीर में कोई प्रतिबंध नहीं होने के बावजूद यहां इसका सेवन देश में सबसे कम है। देश में इस समय 29 फीसदी पुरुष शराब पीते हैं। लेकिन शराब के नुकसान को लेकर लोगों में जागरुकता आ रही है और राष्ट्रीय स्तर पर पिछले नौ साल में इस लिहाज से लगभग तीन फीसदी

फाजिल्का जिले में प्रशासन की नाक तले झोलाछाप डॉक्टर आम लोगों की जिंदगी के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं। फिरोजपुर-फिजिल्का रोड पर इन झोलाछाप डॉक्टर्स के बड़े-बड़े विज्ञापन भी नजर आते हैं। बावजूद इसके प्रशासन इस ओर पूरी तरह से लापरवाह बना हुआ है। जिले के कई इलाकों में झोलाछाप डॉक्टर्स ने अपना जाल बिछाया हुआ है, जांच पड़ताल में भी सामने आया कि बिना किसी डिग्री डिप्लोमा का कई झोलाछाप लोगों की जान के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं। वहीं, इस मामले को फाजिल्का के सिविल सर्जन डॉक्टर सुरेंद्र कुमार ने गंभीरता से लेते हुए जांच की बात कही है।

नवांशहर के फराला गांव में स्थित पंजाब नेशनल बैंक में चोरों ने सेंध लगा दी। चोरों ने बैंक कैश सेफ को तोड़ने की कोशिश की, लेकिन नाकाम रहे। जिसके बाद चोरों ने लॉकर भी तोड़े, लेकिन लॉकरों में क्या था इसके बारे में अभी तक पता नहीं चल सका है। सूचना मिलते ही पुलिस और फोरेंसिक टीम ने मौके पर पहुंचकर तफ्तीश की। बैंक की दीवार तोड़कर दो चोर बैंक में दाखिल हुए थे। ये पूरी घटना सीसीटीवी में कैद हुई है। देखें वीडियो [embed]https://www.youtube.com/watch?v=7L_k3cFbg9c&feature=youtu.be[/embed] पुलिस की फोरेंसिक टीम ने जांच की और सीसीटीवी कैमरे में कैद हुई घटना की फुटेज कब्जे में लेकर

गुरदासपुर पंजाब में विधानसभा चुनाव की मतगणना को लेकर तैयारी जोरों पर चल रही है। गुरदासपुर के डिप्टी कमिश्नर प्रदीप अग्रवाल ने अधिकारियों के साथ बैठक की और तैयारियों का जायजा लिया। उन्होंने अलग-अलग पार्टियों के उम्मीदवारों के साथ भी बैठक की ओर उन्हें काउंटिंग के बारे में जानकारी दी गई। गौरतलब है कि चार फरवरी को हुए मतदान के नतीजे ग्यारह मार्च को आने वाले हैं।

संगरूर में दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। यहां एक महिला ने अपने पति की हत्या कर दी और दो दिन तक रसोई में शव को छुपाए रखा। हत्या का खुलासा तब हुआ जब शव से बदबू फैलने लगी और आस-पास के लोगों को मृतक के लापता होने का शक हुआ। इसके बाद मृतक के दोस्तों ने मामले की सूचना पुलिस को दी, जिसके बाद पुलिस ने कार्रवाई करते हुए घर से शव को बरामद किया। पुलिस की शुरुआती जांच में सामने आया है कि आरोपी महिला को शक था कि मृतक और उसकी भाभी में नाजायज संबंध थे।

मलोट थाना सिटी मलोट की पुलिस ने देह व्यापार के एक अड्डे का पर्दाफाश करते हुए अड्डे की संचालिका महिला और उसके पति सहित 4 लोगों को काबू किया है, जबकि 2 व्यक्ति फरार हो गए। इंस्पैक्टर ने पुलिस पार्टी सहित गुरु नानक नगर स्थित एक पैलेस के नजदीक एक घर में चल रहे इस देह व्यापार के अड्डे पर छापेमारी की। इस दौरान उक्त धंधे की संचालिका परमजीत कौर पत्नी जसवीर सिंह, उसका पति जसवीर सिंह पुत्र चंद सिंह, गुरिंद्र सिंह व एक महिला किरत पत्नी मोनू वासी अबोहर को काबू किया गया है। पुलिस द्वारा गिरफ्तार चारों को ज्यूडीशियल मैजिस्ट्रेट

श्री मुक्तसर साहिब प्रतिदिन की तरह गांव से बकरियां चराने गए 2 नौजवानों की चंदभान ड्रेन की दलदल में डूबने के कारण दुखद मौत हो गई। पुलिस को दी गई जानकारी में गांव भागसर वासी जीत सिंह पुत्र मुखत्यार सिंह ने बताया कि उसका पुत्र गोपाल सिंह (18) और जगसीर सिंह (19) पुत्र बलजीत सिंह अपने 2 अन्य साथियों के साथ प्रतिदिन की तरह गांव के बाहर चंदभान ड्रेन के नजदीक रामगढ़ चुंघा के पुल व ठोकर के बीच बकरियां चराने गए थे। इस दौरान साथ गए करीब 13-14 वर्ष की आयु के 2 बच्चों ने बताया कि एक बकरी चंदभान

समाना के मेन रोड पर अचानक कार में आग लग गई, जिससे कार पूरी तरह जलकर राख हो गई। बड़ी मुश्किल से कार चालक ने अपनी जान बचाई। पुलिस और लोगों ने फायर बिग्रेड को फोन किया, लेकिन आधे घंटे तक फायर बिग्रेड की टीम मौके पर नहीं पहुंची, जिसके कारण कार पूरी तरह जलकर राख हो गई। जानकारी के मुताबिक कार नेहरी कॉलोनी के युवक की थी, जो कार को ठीक करवाकर अपने घर जा रहा था, तभी कार में आग लग गई। वीडियो देखने के लिए क्लिक करें [embed]https://www.youtube.com/watch?v=ktlKCWxMi94&feature=youtu.be[/embed]