अमृतसर पंजाब की स्टेट स्पेशल ऑपरेशन सेल को उस वक्त बड़ी कामयाबी हाथ लगी, जब उसने बिहार से नशे की तस्करी करने वाले गिरोह का पर्दाफाश करते हुए दो लोगों को गिरफ्तार कर लिया। आरोपियों के नाम राजिंदर पाल और प्रभजोत सिंह बताया जा रहा हैं। ये दोनों बिहार से नशीले पदार्थ लाकर पंजाब में बेचते थे। पुलिस का कहना है कि दोनों आरोपी ट्रक चलाते हैं और ट्रक से नशे की तस्करी करते थे।

मोगा के महना गांव में जमीन के झगड़े को लेकर एक युवक ने अपने ही परिवार के तीन लोगों पर गोली चला दी। इस वारदात में पिता, छोटा भाई और भारी गंभीर रूप से घायल हो गए, जिन्हें इलाज के लिए सरकारी अस्पताल में भर्ती करवाया गया। घायल शिंदर सिंह ने बताया कि उसका बड़ा भाई सतनाम सिंह बटवारे की जमीन पर कब्जा करना चाहता है। इसको लेकर कई बार पंचायत में मामले को सुलझाया गया था। लेकिन इस बार उसने  घर के लोगों पर गोली चला दी। और पिता की र्इंट से मारने की कोशिश की। पुलिस मामले की जांच

जालंधर में एक ट्रक बेकाबू होकर भीड़ पर चढ़ गया। इस हादसे में तीन लोगों की मौत हो गई, जबकि कई लोग घायल हो गए। घायलों को सिविल अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। वहीं, गंभीर रूप से घायल एक महिला को अमृतसर रेफर कर दिया गया है। चश्मदीदों के मुताबिक ट्रक अचानक बेकाबू हो गया और भीड़ पर चढ़ गया। जिसके बाद भीड़ इधर-उधर भागने लग। इस घटना की सारी तस्वीर सीसीटीवी में कैद हो गई। मृतकों के परिजनों को पंजाब सरकार ने एक-एक लाख रुपए का मुआवजा और घायलों के मुफ्त इलाज की घोषणा की है।

श्री आनंदपुर साहिब में हिमाचल रोडवेज की बस एक गाड़ी से टकराकर पलट गई। हादसा नंगल-आनंदपुर साहिब रोड पर दडोली गांव के पास हुआ। इस हादसे में एक यात्री की मौत हो गई है, जबकि बीस लोग घायल बताए जा रहे हैं। घायलों को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती करवाया गया है, जहां उनका इलाज जारी है। जानकारी से मुताबिक, बस हिमाचल प्रदेश से चंडीगढ़ की तरफ जा रही थी। उधर, इस हादसे के बाद से बस ड्राइवर फरार है।

चंडीगढ़ चंडीगढ़ में पंजाब के वित्त मंत्री मनप्रीत सिंह बादल ने बैसाखी मेले को लेकर अधिकारियों के साथ बैठक की. पंजाब प्रदेश कांग्रेस भवन के मुख्यालय में हुई इस बैठक में पार्टी विधायकों और अध्यक्षों ने हिस्सा लिया. बैठक के बाद मनप्रीत बादल ने बताया कि राज्य की वित्तिय स्थिति से निपटने के लिए जल्द ही श्वेत पत्र जारी किया जाएगा. उन्होंने कहा कि चुनाव मेनिफेस्टो में किए गए सभी वादे भी सरकार पूरा करेगी.

फरीदकोट पंजाब में किसानों की खुदकुशी का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहे है. ताजा मामला फरीदकोट से सामने आया है, जहां गांव घुघीआणा के रहने वाले एक किसान ने ट्रेन के नीचे आकर खुदकुशी कर ली. बताया जा रहा है मृतक पर लाखों रुपए का कर्ज था, जिसको न चुका पाने के चलते वो काफी परेशान था और इसी तनाव में उसने खुदकुशी कर ली. फिलहाल, पुलिस मामले की जांच कर रही है.

चंडीगढ़ पंजाब महिला कांग्रेस की चंडीगढ़ में अहम बैठक हुई. कांग्रेस महिला मोर्चा की राष्ट्रीय महासचिव नीता डिसूजा ने बैठक की अध्यक्षता की. बैठक में पंजाब विधानसभा चुनावों में कांग्रेस की बड़ी जीत के लिए महिला कार्यकर्ताओं का आभार जताया गया. वहीं, सरकार में महिलाओं की सहभागिता को लेकर भी चर्चा की गई. नीता डिसूजा ने बताया कि पंजाब चुनाव में पार्टी की जीत पर महिला कार्यकर्ताओं का भी खासा योगदान रहा है. महिला कार्यकर्ताओं को आगे क्या जिम्मेदारी दी जाए, इसको लेकर वो सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह से जल्द बात करेंगी.

पटियाला पंजाब में कैप्टन अमरिंदर सरकार ने वीआईपी सुरक्षा की समीक्षा के बाद वीआईपी लोगों की सुरक्षा में कटौती करनी शुरू कर दी है. इस कड़ी में पूर्व सेना प्रमुख और शिरोमणि अकाली दल के नेता जनरल जेजे सिंह की सुरक्षा में कटौती कर दी गई है. पटियाला शहरी हलका से कैप्टन के खिलाफ अकाली दल के उम्मीदवार बने जनरल जे.जे. सिंह को तत्कालीन सरकार ने 6 से ज्यादा सुरक्षाकर्मी दे रखे थे जिन्हें वापस लेने का फैसला ले लिया गया है. पिछली सरकार के दौरान जेजे सिंह की सुरक्षा में तैनात किए सुरक्षा कर्मियों को वापस बुला लिया गया है, हालांकि केन्द्र

चंडीगढ़ पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने चंडीगढ़ में सोमवार को कृषि अधिकारियों के साथ एक अहम बैठक की. इस बैठक में सीएम ने अधिकारियों को नकली बीज और कीटनाशक विक्रेताओं के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने के आदेश दिए. कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि पूरे प्रदेश के किसानों को अच्छे से अच्छा बीज दिया जाए ताकि उनकी फसल अच्छी हो सके. सीएम ने अधिकारियों को हरियाणा के साथ तालमेल बिठाकर पूरे क्षेत्र में एक जैसे बीज और इसकी सिंचाई को ठीक ढंग से करने के आदेश दिए. सीएम ने कहा कि वो जल्द ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर मक्की

दिल्ली पंजाब के किसानों ने दिल्ली के जंतर-मंतर पर सोमवार को एक बार फिर से प्रदर्शन किया, लेकिन इस दौरान पंजाब के किसान तमिलनाडू के किसानों को समर्थन देने के लिए पहुंचे थे. ये प्रदर्शन भारतीय किसान यूनियन के बैनर तले किया गया. किसानों ने इस दौरान केंद्र सरकार की किसानों के लिए बनाई गई नीतियों का विरोध किया. किसानों की मांग है उनका कर्ज माफ किया जाए. वहीं, सूखा पीड़ित किसानों का कहना है कि उनके सैकड़ों साथी आत्महत्या कर चुके हैं पर उनकी आज तक कोई सुनवाई नहीं हो रही है. उनको राहत नहीं दी जा रही है, जबकि राज्य को