पटियाला(जोसन): पी.आर.टी.सी. के मैनेजिंग डायरैक्टर और सीनियर आई.ए.एस. की लोक अदालत ने आज यहां दोषी बना कर नौकरी से निकाले 41 कंडक्टरों को फिर से नौकरी पर बहाल कर दिया है जबकि 39 कंडक्टरों की अपीलों को डिसमिस कर दिया है. लोक अदालत में कुल 70 कंडक्टर अपनी अपीलें लेकर पहुंचे थे. मनजीत सिंह नारंग ने बताया कि अब तक चोरी के मामलों में 149 कंडक्टर पिछले समय में दोषी करार देकर निकाले गए थे जिन्होंने अपनी अपीलें पी.आर.टी.सी. को लगाई हुई थीं. उन्होंने बताया कि पी.आर.टी.सी. ने किसी भी कंडक्टर को माफ करने के लिए अपने नियम बनाए हैं. उन नियमों

चंडीगढ़ के पंजाब भवन में पंजाब कांग्रेस प्रधान सुनील जखड़ ने प्रेस कॉन्फ्रेस की। इस दौरान उन्होंने विधानसभा में हुई घटना को दुर्भाग्यपूर्ण बताया, साथ ही विपक्ष के रवैये पर सवाल उठाए। उन्होंने कहा कि विधानसभा की घटना पर उन्हें अफसोस है। विपक्षी पार्टियों ने वे मुद्दें नहीं रखे, जिन्हें लेकर वो तीन महीने से सरकार पर हमलावर हो रही थी, लेकिन विपक्षी पार्टियों ने सदन में एक अलग ही माहौल बनाया। उन्होंने सुखबीर सिंह बादल के स्पीकर को लेकर दिए बयान को भी दुर्भाग्यपूर्ण करार दिया।

नशे के खिलाफ छेड़ी गई मुहिम के तहत पंजाब पुलिस को तब बड़ी सफलता मिली जब संगरूर पुलिस ने हरियाणा के एक नशा तस्कर को मुनक के पास से गिरफ्तार किया, जबकि एक आरोपी पुलिस को चकमा देकर भागने में कामयाब रहा। पुलिस ने आरोपी के पास से करीब दो हजार नशीली शीशियां और छब्बीस हजार नशीली गोलियां बरामद की हैं। आरोपी इन नशीली दवाईयों को पंजाब के अलग-अलग शहरों में बेचते थे।

लुधियाना सीआईए पुलिस ने फर्जी सीबीआई अफसर को गिरफ्तार किया है। आरोपी सरकारी नौकरी दिलवाने के नाम पर लोगों से लाखों रुपए ठग चुका है। आरोपी धर्मकोट का वाहेगुरू सिंह है। पुलिस ने आरोपी के पास से एक फर्जी आईडी, एक स्विफ्ट डिजायर कार और 16 लाख रुपए कैश बरामद किया है। पुलिस ने उसे उस वक्त गिरफ्तार किया, जब वो लुधियाना में किसी युवक से पैसे लेने के लिए आया था। पुलिस के मुताबिक उसने अलग अलग शहरों के 18 लोगों को नौकरी का झांसा देकर सोलह लाख रुपए की ठगी की है। आरोपी ने बताया कि कार भी ठगे

चंडीगढ़ में शिरोमणि अकाली दल के अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल ने भी प्रेस कॉन्फ्रेस की और कैप्टन सरकार के पहले बजट पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि बजट दस साल पुराना है और इसमें कुछ नया नहीं है। सुखबीर बादल ने सवाल उठाते हुए कहा कि वित्त मंत्री मनप्रीत बादल ने भी सदन में झूठ बोला और अधिकारियों ने भी बिना देखे आंकड़े पेश किए।

चंडीगढ़ सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन यानी CBSE ने NEET का रिजल्‍ट जारी कर दिया है. आप इसे ऑफिशियल वेबसाइट पर चेक कर सकते हैं. इस बार पंजाब के नवदीप सिंह ने नीट परीक्षा में टॉप किया है. उन्‍होंने AIR 1 rank के साथ कुल 697 अंक हासिल किए हैं. दूसरे स्‍थान पर अर्चित गुप्‍ता हैं, जिनके 695 अंक हैं. तीसरे स्‍थान पर मनीश मूलचंदानी हैं, जिनके भी 695 मार्क्‍स हैं. फीमेल केटेगरी में निकिता गोयल टॉपर बनी हैं. इस बार 6.11 लाख छात्रों ने नीट परीक्षा क्‍लीयर की है. जबकि एमबीबीएस के लिए 63,800 सीट्स और बीडीएस के लिए 40,000 सीट्स हैं. गौरतलब

पंजाब कैबिनेट मंत्री ब्रह्म महिंद्रा ने प्रदेश की जनता के लिए एक बड़ा ऐलान किया है। मंत्री ब्राहृ महिंद्रा ने विधानसभा में ऐलान किया कि प्रदेश के सभी सरकारी अस्पतालों में मुफ्त डायलेसिस सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी। इस फ्री डायलेसिस सुविधा का लाखों लोग फायदा उठा सकेंगे।

पाकिस्तान की ओर से रिहा किए गए चार भारतीय असैन्य कैदी भारत पहुंच गए। इन कैदियों के नाम सूरज राम, सोहन लाल, मोहम्मद मकबूल लोन और अब्दुल मजीद हैं। दरअसल, ये सभी गलती से पाकिस्तान की सीमा में चले गए थे, जहां उनके साथ पाकिस्तानी जेलों में बुरा व्यवहार किया गया। इस बीच इन चारों कैदियों की सजा पूरी होने करीब 13 साल बाद रिहा कर दिया गया। पाकिस्तान ने ऐसे समय पर कैदियों को रिहा किया है, जब कई मुद्दों पर दोनों देशों के बीच तनाव काफी बढ़ा हुआ है।

लुधियाना निटवियर क्लब के चेयरमैन विनोद थापर ने आम आदमी पार्टी पर गंभीर आरोप लगाए हैं। उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी ने वरिष्ठ नेताओं ने धोखाधड़ी करते हुए दस लाख रुपए एेंठ ली, जिसके बाद उन्हें आम आदमी पार्टी ने इंडस्ट्रीज विंग का प्रधान बनाया था। उन्होंने बतौर प्रधान काम भी किया था और केजरीवाल की टीम ने उनको मिल कर वादा किया था कि विधानसभा चुनाव में उनको लुधियाना से प्रत्याशी बनाया जाएगा, लेकिन जब चुनाव पास आए तो इन लोगों ने उनसे दो करोड़ रुपए की मांग की। ये पैसे मांगने के लिए सभी उनसे अलग-अलग समय पर

पंजाब विधानसभा के बजट सत्र के आखिरी दिन भी विपक्षी दलों ने जमकर हंगामा किया है। शिरोमणि अकाली दल के विधायक सदन में काला चोगा पहन कर पहुंचे। सदन की कार्यवाही शुरू होते ही आम आदमी पार्टी और शिरोमणि अकाली दल के विधायकों ने विधानसभा स्पीकर के पी राणा के खिलाफ नारेबाजी की और हंगामे के बाद दोनों ही विपक्षी दलों ने सदन से वॉकआउट कर दिया।