मुक्तसर जिले के रुखाला गांव में युवती से गैंगरेप कर उसका वीडियो व्हट्स एप्प पर वायरल किए जाने का मामला सामने आया है। पीड़ित ने बताया कि गैंगरेप के बाद उसे जान से मारने की धमकियां दी गई। जानकारी के मुताबिक, पीड़ित गिद्दड़बाहा में डॉक्टरी का काम सीख रही है। रात 9 बजे के करीब उसे पड़ोसी युवक लेने के लिए आया। उसने युवती को बताया कि उसकी मां को हार्ट अटैक आया है। उसके परिवार वालों ने उसे लेने के लिए भेजा है। इसके बाद वो उसे किसी सुनसान जगह पर ले गया। वहां पहले से ही तीन व्यक्ति

पंजाब में किसानों की खुदकुशी का सिलसिला थम नहीं रहा है। ताजा मामला तरनतारन के सरहदी गांव नोशहरा ढाला का है, जहां कर्ज से तंग किसान कुलवंत सिंह ने जगर खाकर खुदकुशी कर ली। कुलवंत सिंह पर आढ़तियों और सोसायटी का करीब सात लाख रुपए का कर्ज था। जिससे वो हमेशा परेशान रहता था। परिजनों के मुताबिक कुलवंत पर तीन एकड़ खेत था, जिसमें से एक एकड़ खेत कर्ज चुकाने के चलते बेच दिया। वहीं मामले की जांच कर रही है।

पाकिस्तान रेंजर्स ने 78 भारतीय कैदियों को वाघा सीमा पर बीएसएफ अधिकारियों को सौंप दिया, इनमें अधिकतर मछुआरे हैं। इन सभी को कराची की जेल से रिहा किया गया था। भारतीय मछुआरों को रविवार को कराची के लांधी जेल से रिहा किया गया था और सभी को सोमवार को दोपहर में एक ट्रेन से लाया गया। बीएसएफ को जिन मछुआरों को सौंपा गया, उनमें से अधिकतर ने लांधी जेल में अपनी सजाएं पूरी कर ली थीं। उन सभी को अनजाने में पाकिस्तान की जलसीमा में प्रवेश करने के लिए पकड़ा गया था।

नशे के खिलाफ चलाई गई मुहिम में लगातार मिल रही सफलता के मद्देनजर मोगा सीआईए पुलिस ने दो नशा तस्करों को गिरफ्तार किया है। आरोपियों के पास से दो किलो अफीम बरामद हुई है। एएसआई गुरमेल सिंह ने बताया कि पुलिस नाके के दौरान शक के आधार पर दो लोगों की तलाशी ली गई, तो उनके पास एक काले लिफाफे में दो किलो अफीम बरामद हुई। पुलिस ने मामला दर्ज कर दोनों नशा तस्करों को कोर्ट में पेश किया, जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया।

7 जुलाई को होशियारपुर कोर्ट से पुलिस को चकमा देकर भागे कैदी को जिला पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। एसएसपी जे इलनचेलियन ने बताया कि मुकेरिया का रहने वाले ओंकार सिंह को पास्को एक्ट के तहत 14 अगस्त 2016 को मामला दर्ज किया गया था, वो बतौर हवालाती केंद्रीय जेल होशियारपुर में बंद था। सात जुलाई को पुलिस ने कैदी को कोर्ट में पेश किया। पेशी के बाद जैसी ही बाहर निकला तो भीड़ का फायदा उठाकर वो फरार हो गया। इसकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस टीम गठित की गई। पुलिस ने छापा मारकर आरोपी को उसके घर से

अमृतसर में मजीठा हलके के जेठू गांव में एक महिला ने अपने नंदोई की हत्या कर दी। महिला कुछ दिन पहले ही अपने पति की हत्या के आरोप में सजा काटकर वापस आई थी और अब उसने अपने नंदोई की हत्या कर दी। जानकारी के मुताबिक, जब महिला जेल से बाहर आई तो उसे पता चला की उसकी सास ने मृतक को घर जमाई बना लिया और सारी जायदाद उसके नाम कर दी। ये बात महिला को रास नहीं आई और उसने उसकी हत्या कर दी। इस वारदात में महिला के अलावा उसके तीन साथी भी शामिल थे। पुलिस ने

इंडियन नेशनल लोकदल ने 10 जुलाई को पंजाब के वाहनों को हरियाणा से होकर नहीं गुजरने देने का ऐलान करने के चलते पूरे दिन माहौल गर्म रहने की आशंका है। कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए हरियाणा के पुलिस अफसरों की पंजाब के पुलिस अधिकारियों के साथ दो दिन लगातार बैठकें हुई हैं। इस बीच दोनों राज्यों के बॉर्डर पर पंजाब पुलिस की 30 टुकड़ियां और अर्धसैनिक बलों की चार कंपनियां तैनात कर दी गई हैं। गौरतलब है कि पंजाब हरियाणा की सीमाएं पांच जगह लगती हैं। इनेलो पार्टी का कहना है कि इनमें से किसी भी रास्ते से पंजाब के

लुधियाना शहर के पॉश इलाके सराभा में एक लुटेरे को उद्योगपति की पत्नी का पर्स छीनना भारी पड़ गया. पर्स छीनकर फरार होने की कोशिश कर रहा लुटेरे महिला के बॉडीगार्ड के हत्थे चढ़ गया और फिर बॉडीगार्ड ने लुटेरे की बेहरमी से पिटाई शुरू कर दी. दरअसल, उद्योगपति का पत्नी सराभा इलाके की मार्केट में शॉपिंग के लिए आई थी. तभी बाइक सवार दो लुटेरे ने महिला का पर्स छीन लिया और बाइक से भागने की कोशिश करने लगे. तभी महिला के बॉडीगार्ड ने लुटेरों के पीछे अपनी गाड़ी लगा दी. इसके बाद दोनों आरोपी एक बंद गली में फंस गए और

चंडीगढ़ पंजाब कला भवन में फोटो जर्नलिस्ट वेलफेयर एसोसिएशन की ओर से बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ विषय पर तीन दिवसीय फोटो प्रदर्शनी का आयोजन किया गया है. जिसका उद्घाटन कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने किया. इस दौरान सिद्धू ने फोटो जर्नलिस्ट की ओर से बेटी बचाओं बेटी पढ़ाओ विषय पर अलग-अलग समारोहों के दौरान कैद की गई तस्वीरों की तारीफ भी की.

चंडीगढ़ पंजाब में शिक्षा और स्वास्थ्य सुविधाओं में सुधार के लिए नेता विपक्ष एचएस फूलका ने विधानसभा स्पीकर राणा के पी सिंह को एक पत्र लिखा है, जिसमें इन सेवाओं की बेहतरी के लिए ऑल पार्टी कमेटी फॉर वेलफेयर बनाने की मांग की है. फूलका ने राज्य की शिक्षा व्यवस्था के स्तर और स्वास्थ्य सुविधाओं की गुणवत्ता में सुधार के लिए ये पत्र लिखा है. फूलका के मुताबिक, इससे प्रदेश की जनता को फायदा होगा.