यूपीए. की राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार मीरा कुमार 9 जुलाई को चंडीगढ़ जाएंगी। इस दौरान वो हरियाणा और पंजाब के कांग्रेस विधायकों से मुलाकात कर समर्थन मांगेंगी। इससे पहले रामनाथ कोविंद ने भी चंडीगढ़ पहुंचकर हरियाणा और पंजाब के भाजपा, अकाली दल और इनेलो सांसदों के अलावा विधायकों से मुलाकात कर समर्थन मांगा था। जानकारी के मुताबिक, उनके दौरे की तैयारियों का जायजा लेने कांग्रेस सांसद दीपेंद्र हुड्डा चंडीगढ़ जाएंगे। मीरा कुमार दोनों प्रदेशों के कांग्रेस विधायकों और सांसदों से एक साथ मुलाकात करेंगी।

श्रीखंड यात्रा पर गए चार युवाओं में से एक युवक लापता है। साथियों ने अपने दोस्त को ढूंढने का प्रयास किया, लेकिन सफलता नहीं मिली। उन्होंने उसके परिजनों को इसकी सूचना दी। इसके बाद युवक के मामा निरमंड पहुंचे और पुलिस में मामला दर्ज करवाया। आनी के डीएसपी बलदेव ठाकुर ने बताया कि सोलन के राहुल और सचिन के साथ चंडीगढ़ के वीरेंद्र सिंह रावत और अभिषेक खरबंदा 30 जून को निरमंड के दशनामी अखाड़ा पहुंचे। यहां से एक जुलाई को चारों युवक श्रीखंड महादेव के दर्शनों के लिए निकले। तीन जुलाई को श्रीखंड पहुंचे। दर्शन करने के बाद लौटते वक्त

आज चंडीगढ़ में पंजाब कैबिनेट की अहम बैठक होने जा रही है। इस बैठक की अध्यक्षता सीएम कैप्टन अमरिंदर करेंगे। इस दौरान नई ट्रांसपोर्ट पॉलिसी पर मुहर लग सकती है। साथ ही कई अहम मुद्दों पर भी चर्चा हो सकती है।

चंडीगढ़ चंडीगढ़ में पंजाब बीजेपी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की. इस पीसी में पंजाब बीजेपी के सचिव विनीत जोशी, बीजेपी उपाध्यक्ष हरजीत सिंह और इकबाल सिंह लालपुरा मौजूद रहे. इस मौके पर विनीत जोशी ने कहा कि रेफरेंडम वाले पोस्टर्स को लेकर पंजाब सरकार जल्द आरोपियों पर सख्त कार्रवाई करे. उन्होंने कहा, अगर सरकार इन पोस्टर्स को नहीं हटाती तो खुद बीजेपी के नेता जाकर हटाएंगे. वहीं बीजेपी के नेताओं ने कहा विदेशी ताकतें पंजाब का माहौल बिगाड़ने की साजिश रच रही हैं.

हरियाणा के किसान अपनी मांगों को लेकर आज चंडीगढ़ में सीएम मनोहर लाल से मिले। इसमें किसान संगठनों ने मीडिया की मध्यस्थता की मांग और किसानों की कर्जमाफी के अलावा स्वामीनाथन रिपोर्ट, पेंशन समेत अन्य मांगों पर बातचीत की। इस बैठक में सीएम के अलावा कृषि मंत्री ओपी धनखड़ बी मौजूद थे, लेकिनये बैठक बेनतीजा रही।

स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट की दूसरी वर्षगांठ पर सिटी ब्यूटीफुल चंडीगढ़ को छह सौगातें मिलीं। इन प्रोजेक्टों पर करोड़ों रुपए खर्च किए जा रहे हैं। केंद्र सरकार की ओर से स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट को लांच किए हुए आज दो साल पूरे हो गए। सबसे पहले सांसद किरण खेर ने नगर निगम की ओर से इंदिरा कॉलोनी और राम दरबार कॉलोनी में दो योजनाओं का शिलान्यास किया। इसके अलावा सेक्टर-17 के अर्बन पार्क का शिलान्यास किया गया। इस प्रोजेक्ट पर दस करोड़ रुपए खर्च होगा। इसके तहत फुटबॉल स्टेडियम को एक मीटर गहरा करके मिट्टी की पहाड़ बनाया जाएगा और साथ लगती

चंडीगढ़: निजी बसों के संचालन को लेकर छिड़ा विवाद थमता नहीं दिख रहा. विवादित निजी बस रूट परमिट पॉलिसी को रद कर प्रदेश सरकार ने नया ड्राफ्ट तो जारी कर दिया, लेकिन न तो इससे रोडवेज कर्मचारी यूनियनें संतुष्ट हैं और न निजी बस संचालक. रोडवेज कर्मचारी फिर से आंदोलन की रणनीति बनाने में जुटे हैं तो वहीं निजी बस संचालक ड्राफ्ट को हाई कोर्ट में चुनौती देंगे. नए ड्राफ्ट में परिवहन विभाग ने 452 रूट बनाते हुए एक माह में आपत्तियां और सुझाव मांगे हैं. इनमें से ज्यादातर वर्ष 1993 की पॉलिसी के हैं जिन पर रोडवेज कर्मचारियों ने खूब

चंडीगढ़ केबल ऑपरेटर माफिया की ओर से सरकार को 684 करोड़ रुपये का चूना लगाने का खुलासा करने वाले स्थानीय निकाय मंत्री नवजोत सिद्धू ने कड़ा रुख दिखाया है. राज्‍य में केबल आॅपरेटरों पर गाज गिरनी शुरू हो गई है. सिद्धू ने अपने विभाग को ऑपरेटरों पर कड़ी कार्रवाई के निर्देश दिए हैं. उन्होंने सभी नगर निगमों के कमिशनरों, नगर कौंसिलों व पंचायतों के कार्यसाधक अधिकारियों व विभाग के क्षेत्रीय उप निदेशकों पत्र जारी किया है. इसमें निर्देश दिए गए हैं कि म्युनिसिपल अधिकार क्षेत्रों में किसी भी केबल ऑपरेटर की ओर से तार डालने के लिए सरकारी प्रॉपर्टी का दुरुपयोग न

चंडीगढ़ में शिरोमणि अकाली दल के अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल ने भी प्रेस कॉन्फ्रेस की और कैप्टन सरकार के पहले बजट पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि बजट दस साल पुराना है और इसमें कुछ नया नहीं है। सुखबीर बादल ने सवाल उठाते हुए कहा कि वित्त मंत्री मनप्रीत बादल ने भी सदन में झूठ बोला और अधिकारियों ने भी बिना देखे आंकड़े पेश किए।

चंडीगढ़ गुरुवार को पंजाब विधानसभा में जमकर हंगामा हुआ. आम आदमी पार्टी के विधायकों को मार्शल ने उठाकर सदन से बाहर कर दिया. वहीं, मार्शलों के साथ धक्का-मुक्की के बाद कई विधायकों की तबीयत बिगड़ गई. इसके बाद घायल आप विधायकों को अस्पताल में इलाज के लिए ले जाया गया. इसके खिलाफ आप विधायक सिमरजीत सिंह बैंस और सुखपाल खैरा ने विधानसभा के बाहर विरोध प्रदर्शन भी किया. शुक्रवार को पंजाब विधानसभा के मौजूदा सत्र का आखिरी दिन है. बता दें कि आप विधायक सुखपाल खैरा और सिमरजीत सिंह बैंस को सदन की कार्यवाही से पहले ही निलंबित किया गया था, लेकिन गुरुवार