चंडीगढ़ पुलिस महानिदेशक डॉ. केपी. सिंह ने हरियाणा पुलिस कर्मचारियों को मुस्तैद करने और  उनका मनोबल बढ़ाने के लिए हरियाणा भ्रमण शुरू कर दिया है। वहीं हरियाणा में पुन: जाट आंदोलन की आहट से सभी पुलिस कर्मचारियों की छुट्टियां रद्द कर दी गई हैं। डी.जी.पी. ने फोर्स को हरियाणा के कई जिलों में सम्बोधित करते हुए कहा कि वे लोगों के बीच जाकर साकारात्मक तरीके से भाईचारा कायम करें और पुलिस का हर जवान सेवा-सुरक्षा-सहयोग को अमल में लाएगा। उन्होंने कहा कि आरक्षण की आड़ में किसी को भी कानून तोडऩे की इजाजत नहीं है। सामाजिक सौहार्द बनाने के लिए बातचीत का

कुरुक्षेत्र शाहबाद में मृतकों के नाम पेंशन बांटने का खुलासा होने के बाद एक आरटीआई कार्यकर्ता ने पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट में याचिका दायर की, जिस पर सुनवाई करते हुए हाईकोर्ट ने सरकार को नोटिस जारी किया है. इस मामले में सुनवाई के लिए चार मई की तारीख निर्धारित की गई है। आपको बता दें, आरटीआई से हुए खुलासे में चला कि शाहबाद इलाके में ऐसे कई लोगों के नाम पर पेंशन जारी की गई जिनकी मौत हो चुकी थी। हालांकि, ये मामला सामने आने पर समाज कल्याण विभाग ने संबंधित परिजनों से रिकवरी भी की थी। मामले में आरटीआई कार्यकर्ताओं ने

प्रचार सलाहकार रॉकी मित्तल को हरियाणा सरकार ने उनके पद से हटा दिया है। जी हां, विवादित बयानबाजी करने पर सरकार ने रॉकी मित्तल को तलब किया था। मिली जानकारी के अनुसार सी.एम. के पी.एस.आर.के खुल्लर और कैबिनेट मंत्री रामबिलास शर्मा ने मित्तल के साथ बैठक की। इस बैठक के दौरान सरकार के खिलाफ बयानबाजी करने पर रॉकी को फटकार लगी है। आपको बता दें कि शुक्रवार रॉकी ने 2 उच्चाधिकारियों पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाते हुए कहा था कि ये ईमानदारों की सरकार नहीं है। चंडीगढ़ में भ्रष्ट अधिकारी बैठे हैं। लोकसंपर्क विभाग में भ्रष्टाचार हो रहा है। उन्होंने कहा

दिल्‍ली/चंडीगढ़ जाट आंदोलन के दौरान मुरथल में गैंगरेप के मामले में पंजाब एवं हरियाणा हाइकोर्ट ने हरियाणा पुलिस को फटकार लगाई है. हाइकोर्ट ने कहा कि मुरथल में गैंगरेप हुआ था और इसके सबूत हैं. हाइकोर्ट ने चश्मदीदों के बयान और फटे कपड़ों को सबूत माना है. कोर्ट ने हरियाणा पुलिस से गुनहगारों को जल्द गिरफ़्तार करने को कहा है. साथ ही मामले की जांच कर रही एसआईटी को सोनीपत की अदालत में हलफ़नामा दाख़िल कर गैंगरेप की धारा नहीं हटाने को कहा है. दरअसल, हरियाणा सरकार और मामले की जांच के लिए गठित एसआईटी का लगातार यह कहना रहा है कि मुरथल

होली में अभी दो महीने का वक्त है लेकिन रेलवे ने इस त्योहार के लिए अभी से तैयारियां चालू कर दी हैं. होली और आने वाली गर्मियों की छुट्टियों के मद्देनजर कई स्पेशल ट्रेनों का एलान किया गया है. इन मौकों पर यात्रियों की भीड़ को देखते हुए दिल्ली से बरौनी, दरभंगा, कोचुवेल्ली और चंडीगढ़ के लिए खास एसी ट्रेनें चलाई जाएंगी. साथ ही उदयपुर से जम्मू लाइन पर भी एसी एक्सप्रेस गरीब रथ चलाने की घोषणा की गई है. रेलवे ने चंडीगढ़-गोरखपुर और बठिंडा-वाराणसी रूट पर ऐसी साप्ताहिक ट्रेनें चलाने का फैसला किया है. वहीं जम्मूतवी-पठानकोट के बीच हफ्ते के पांच

चंडीगढ़ हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा है कि प्रदेश के एक हजार गांव को वाई-फाई की सुविधा दी जाएगी. अब तक प्रदेश में सौ गांवों को वाईफाई की सुविधा दी जा रही है. उन्होंने बताया कि इसके अलावा शहर में यूनिवर्सिटी,अस्पताल के अलावा और कई संस्थागत स्थलों पर वाई-फाई की सुविधा दी जाएगी, साथ ही उन्होंने कहा कि प्रदेश में कैशलेस लेन-देन को बढ़ावा दिया जाएग.

चंडीगढ़ पंजाब विधानसभा चुनावों के लिए सभी पार्टियों की तैयारियां जोरों पर हैं. इसे लेकर आम आदमी पार्टी की तरफ से 'चलो पंजाब की ओर' नाम से एक अभियान चलाया गया है. इस अभियान के तहत करीब 20 देशों से एनआरआई आम आदमी पार्टी के प्रचार के लिए चंडीगढ़ पहुंचे हैं. इस मौके पर AAP नेता संजय सिंह ने एनआरआई लोगों का स्वागत किया. उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी को विधानसभा चुनावों में एनआरआई लोगों का भारी समर्थन मिल रहा है.

चार फरवरी को होने वाले पंजाब विधानसभा चुनाव में 117 सीटों के लिए कुल 1941 नामांकन पत्र दाखिल किए गए हैं। बुधवार को नामांकन दाखिल करने की अंतिम दिन 1040 नामांकन पत्र दाखिल हुए जबकि मंगलवार तक कुल 901 नामांकन पत्र दाखिल हुए थे। लुधियाना जिले में सबसे अधिक 222 नामांकन पत्र दाखिल किए गए हैं जबकि फतेहगढ़ साहिब में सबसे कम 37 नामांकन पत्र दाखिल हुए। इसी तरह अमृतसर लोकसभा उपचुनाव के लिए कुल 15 नामांकन पत्र दाखिल किए गए हैं। बुधवार को 10 नामांकन पत्र दाखिल किए गए जबकि मंगलवार तक केवल 5 ही दाखिल हुए थे। यह जानकारी पंजाब

जाट समेत 6 जातियों को हरियाणा सरकार द्वारा दिए गए आरक्षण को चुनौती देने वाली जनहित याचिकाओं में से एक याचिकाकर्ता यादव कल्याण सभा, रेवाड़ी ने हाईकोर्ट की संबंधित बैंच में रिक्विजिशन की अर्जी कोर्ट में पेश की। जिसमें बैंच से उनकी याचिका की सुनवाई न करने की मांग रखी गई है। अर्जी पर सुनवाई करते हुए डिवीजन बैंच ने याचिकाकर्ता के वकील को उचित माध्यम से यह अर्जी दायर करने के आदेश दिए हैं। इस अर्जी पर अब केस की अगली तारीख पर 24 जनवरी को सुनवाई हो सकती है। गौरतलब है कि मामला जस्टिस एस.एस. सारों और जस्टिस

कांग्रेस की हरियाणा और चंडीगढ़ इकाइयां रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया के क्षेत्रीय कार्यालय का 18 जनवरी को घेराव करेंगी। यह घेराव नोटबंदी के वक्त आरबीआई की ओर से अपने संवैधानिक कर्तव्य के निर्वाहन में विफल होने के विरोध में किया जाएगा। हरियाणा कांग्रेस प्रमुख अशोक तंवर ने एक संवाददाता सम्मेलन में बताया कि आरबीआई नोटबंदी के समय अपना संवैधानिक कर्तव्य का निर्वाहन करने में असफल रही जिस वजह से लोगों को बहुत परेशानी झेलनी पड़ी। लोगों की तकलीफें अभी खत्म नहीं हुई हैं और जारी है।। तंवर ने कहा कि आरबीआई दफ्तर के घेराव के मद्देनजर एचपीसीसी ने विधायकों और सांसदों की