प्रद्युम्न मर्डर केस के आरोपी का होगा DNA टेस्ट, करनाल भेजा गया ब्लड सैैंपल

 

गुरुग्राम के रेयान इंटरनेशनल स्कूल में सात साल के मासूम की हत्या के बाद मामले की जांच तेज हो गई है.आज रेयान स्कूल में फॉरेंसिक, सीबीएससी और हरियाणा पुलिस की जांच टीम पहुंची है. उधर,मासूम की हत्या के बाद गिरफ्तार किए गए स्कूल के अफसरों ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की है.वरिष्ठ वकील वरिष्ठ वकील केटीएस तुलसी गिरफ्तार अफसरों की ओर से अर्जी दायर की.याचिका में कहा गया है कि गुरुग्राम बार एसोसिएशन ने इंकार किया है कि कोई भी वकील केस नहीं लड़ेगा.ऐसे में फ्री एंड फेयर ट्रायल के अधिकार का उल्लंघन होता है.ऐसे में इस अर्जी के जरिए केस को दूसरे कोर्ट में ट्रांसफर करने की मांग की है.सुप्रीम कोर्ट सोमवार को इस मामले की सुनवाई करेंगा.वहीं, सीबीएसई की एक टीम भी गुरुग्राम के रेयान इंटरनेशनल स्कूल जांच के लिए पहुंची है.बता दें कि मामले में पुलिस ने स्कूल के माली को भी पूछताछ के लिए हिरासत में लिया है.

उधर, आरोपी कंडक्टर का डीएनए टेस्ट किया जाएगा.आरोपी का ब्लड सैंपल करनाल के फोरैंसिक लैब में भेजा गया है.वहीं, रेयान इंटरनेशनल स्कूल मैनेजमेंट पर पुलिस का शिकंजा कसता जा रहा है.गिरफ्तारी के डर से रेयान स्कूल के मालिकों ने बॉम्बे हाईकोर्ट में अग्रिम जमानत की अर्जी लगाई हुई.इस पर आज सुनवाई होगी.वहीं, इस मामले में मृतक प्रद्युम्न के पिता वरुण ठाकुर बॉम्बे हाईकोर्ट में रेयान इंटरनेशनल स्कूल के मालिकों की अग्रिम जमानत याचिका के विरोध में अर्जी दाखिल करेंगे.

Share With:
Rate This Article