नहीं थम रहा किसान आत्महत्या का सिलसिला, पॉलिसी लाने की जद्दोजहद में पंजाब सरकार

पंजाब में किसानों की आत्महत्या का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है…पंजाब में आज एक ओर किसान ने खुदकुशी कर ली.जहां, पंजाब कैबिनेट सब कमेटी की किसानों के मुद्दे पर बैठक हो रही थी.उसी दौरान कर्ज से परेशान एक किसान की खुदकुशी की खबर सामने आई.मोगा के कोट सदर खां गांव में 46 साल के किसान ने कर्ज के बोझ से परेशान होकर अपनी जान दे दी.मृतक किसान पर करीब छह लाख रुपए का कर्ज था.

दूसरी तरफ किसानों की कर्ज माफी को लेकर चंडीगढ़ स्थित पंजाब भवन में पंजाब कैबिनेट सब-कमेटी की बैठक हुई. प्रदेश के वित्त मंत्री मनप्रीत सिंह बादल की अध्यक्षता में बैठक हुई.इस दौरान बैठक में सब कमेटी के सदस्य कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू, राणा गुरजीत सिंह, तृप्त राजेंदर बाजवा भी मौजूद रहे.बैठक के बाद कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा कि किसानों पर कर्ज का बोझ न पड़े.इसके लिए कर्ज लेने और देने के लिए नियम बनाए जा रहे हैं.सिद्धू ने कहा कि उनसे किसान जत्थेबंदियों ने अपनी समस्याएं रखी है,,जिसे रेगुलेट किया जाएगा.उन्होंने कहा कि महज कर्ज माफ करने से समस्या का हल नहीं होगा.बल्कि कर्ज का बोझ किसानों पर ना पड़े इसके लिए प्रयास किए जा रहे हैं.वहीं, इस दौरान उन्होंने बताया कि कैबिनेट सब कमेटी की अगली बैठक गुरदासपुर उपचुनाव के बाद होगी.

Share With:
Rate This Article