उत्तर कोरिया पर संयुक्त राष्ट्र ने लगाए नए प्रतिबंध, चीन ने किया समर्थन

बीजिंग

हाल ही में उत्‍तर कोरिया द्वारा छठा परमाणु परीक्षण किए जाने से कई देश हिल गए। खास तौर से अमेरिका, जिसके सब्र का बांध टूट गया। ऐसे में उत्‍तर कोरिया पर और कड़े प्रतिबंध लगाने का एक मसौदा तैयार किया गया, जिसे संयुक्‍त राष्‍ट्र सुरक्षा परिषद ने सर्वसम्‍मति से पास कर दिया। सभी सदस्‍य देशों ने संयुक्त राष्ट्र की बैठक में 15-0 से वोट देकर इस पर सहमति जताई। वहीं चीन ने भी इसका समर्थन किया है।

चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्‍ता गेंग शुआंग ने मंगलवार को कहा कि उत्‍तर कोरिया के परमाणु परीक्षणों के बाद कोरियाई प्रायद्वीप में पैदा हुए तनाव को खत्‍म करने के लिए संयुक्‍त राष्‍ट्र सुरक्षा परिषद द्वारा उठाए गए आवश्‍यक कदमों का चीन समर्थन करता है।

गौरतलब है कि 2006 से संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद अब तक उत्तर कोरिया के ख़िलाफ नौ प्रस्तावों को एकमत से मंजूरी दे चुकी है। शिन्‍हुआ समाचार एजेंसी के अनुसार, शुआंग ने कहा कि प्रस्‍ताव से कोरियाई प्रायद्वीप में शांति एवं स्थिरता बनाए रखने को लेकर सुरक्षा परिषद के सदस्‍यों की सर्वसम्‍मति स्‍पष्‍ट रूप से झलकती है। चीन को उम्‍मीद है कि प्रस्‍ताव को विस्‍तार से और पूरी तरह से लागू किया जाएगा। शुआंग ने कहा कि कोरियाई प्रायद्वीप का पड़ोसी होने के नाते चीन करीब से स्थिति पर नजर बनाए हुए है।

प्रस्‍ताव के तहत उत्तर कोरिया भेजे जाने वाले कोयला, लीड और सीफूड पर पूर्ण प्रतिबंध लगाया जाएगा। उत्तर कोरिया से कपड़ों के निर्यात पर रोक को भी मंजूरी दी गई है। इसके अलावा उत्तर कोरिया मौजूदा तय सीमा तक ही कच्चे तेल का आयात कर सकेगा।

Share With:
Rate This Article