भारतीय दूरसंचार नियामक ने शुक्रवार को कॉल ड्रॉप को लेकर कड़े नियमों की घोषणा की और कहा कि जो दूरसंचार ऑपरेटर मानदंडों को पूरा नहीं करेंगे, उन पर कम से कम 5 लाख रुपये का जुर्माना लगाया जाएगा. भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण (ट्राई) ने कहा, 'अगर सेवा प्रदाता नए शुरू किए गए DCR (कॉल ड्रॉप की दर) बेंचमार्क तक पहुंचने में नाकाम होते हैं तो उन पर ग्रेडेट फाइनेंसियल डिसइंसेटिव कार्रवाई की जाएगी, जिसके तहत जुर्माना लगाया जाएगा. जुर्माने की रकम इस पर निर्भर करेगी कि कंपनियां बेंचमार्क से कितनी दूर हैं.' इसमें बताया गया कि बेंचमार्क को पूरा नहीं करने पर

बॉलीवुड सेंसेशन सनी लियोनी की एक झलक पाने को लोग बेकरार रहते हैं. अब फैंस की यही बेकरारी उन्हें महंगी पड़ रही है. हाल ही में कोच्चि में सनी लियोनी को देखने के लिए लोगों की भीड़ लग गई, उनके दीदार के लिए लोग ट्रकों और बसों में भर-भरकर पहुंचे थे. इस वजह से सड़कों पर लोगों को घंटों लंबे जाम का सामना करना पड़ा था. इसी मामले में अब केरल पुलिस ने कार्रवाई करते हुए 100 से ज्यादा फैंस के खिलाफ शिकायत दर्ज की है. केरल पुलिस ने मोबाइल स्टोर के मालिक और बाकी 100 लोगों पर आईपीसी की धारा

दिल्ली के अशोक विहार इलाके में बुधवार को ग्याहरवीं के एक छात्र कुश ने घर के चौथे फ्लोर से कूदकर खुदकुशी की कोशिश की. वह अभी सर गंगाराम अस्पताल के आईसीयू में भर्ती है. इस तरह की खबरें आ रही है कि कुश ब्लू व्हेल गेम खेला करता था. हालांकि पुलिस का कहना है कि अभी तक की जांच में ऐसा कुछ नहीं मिला है, क्योकि शरीर पर कोई ऐसे निशान नहीं मिले है. जिस जगह से बच्चे ने खुदकुशी की कोशिश की, वहां उसकी चप्पल, चश्मा और मोबाइल मिला है. बताया जा रहा है मूड़ा भी वहां था जिसपर चढ़कर

उत्तर प्रदेश के वाराणसी की सड़कों पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लापता होने के पोस्टर लगाए गए हैं. पीएम मोदी वाराणसी संसदीय क्षेत्र से ही सांसद हैं. दीवारों पर चिपकाए गए इन पोस्टरों में लिखा है कि लापता वाराणसी सांसद. साथ में पीएम मोदी की तस्वीर लगी है. इनमें पीएम मोदी को संबोधित करते हुए नारा लिखा है- 'जाने वह कौन सा देश जहां तुम चले गए.' हालांकि इन पोस्टर को लगाने वाले का नाम नहीं लिखा है. पोस्टर के सबसे नीचे निवेदक में लिखा है- लाचार, बेबस एवं हताश काशीवासी. वहीं, वाराणसी में पीएम मोदी के लापता होने के पोस्टर

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज अपनी कर्मस्थली गोरखपुर से स्वच्छ यूपी, स्वस्थ यूपी अभियान की शुरूआत की।सीएम योगी आदित्यनाथ ने गोरखपुर के अंधियारी बाग से स्वच्छता का अभियान शुरू किया। इसके बाद हेलीकॉप्टर से कैम्पियरगंज के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का जायजा लेंगे। मुख्यमंत्री गोरखपुर मंडल के अन्य जिलों में बाढ़ की स्थिति भी देखेंगे। लंबे समय से इंसेफ्लाइटिस से जूझ रहे गोरखपुर में इस अभियान की शुरुआत करने से पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अधियारी बाग में डॉ. भीमराव अंबेडकर की मूर्ति पर माल्यार्पण किया। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि सफाई के लिए सभी के अंदर प्रतिस्पर्धा की भावना का

छत्तीसगढ़ के दुर्ग जिले में गोशाला में लगभग 200 गायों की मौत भूख से हो गई है. पुलिस ने गोशाला संचालक भाजपा नेता को गिरफ्तार कर लिया है, वहीं जिला प्रशासन ने भी मामले की जांच शुरू कर दी है. दुर्ग क्षेत्र के पुलिस महानिरीक्षक दीपांशु काबरा ने बताया कि जिले के धमधा थानाक्षेत्र के अंतर्गत राजपुर गांव स्थित गोशाला में गायों की मृत्यु के मामले में पुलिस ने गोशाला संचालक हरीश वर्मा को गिरफ्तार कर लिया है. छत्तीसगढ़ राज्य गौसेवा आयोग की शिकायत पर यह कार्रवाई की गयी है. मुख्यमंत्री ने कहा कि गोशाला में भूख से गायों की

अंतरराष्ट्रीय मंचों पर कश्मीर को आजाद करने का ढिंढोरा पीटने वाले पाकिस्तान को उसके ही एक नेता ने इस क्षेत्र से अपना कब्जा छोड़ने की सलाह दी है। उनके अनुसार, इस्लामाबाद को अपने पड़ोसी मुल्कों के साथ शांतिपूर्ण संबंध बनाने की जरूरत है। अफगानिस्तान की सीमा से सटे खैबर-पखतूनख्वा प्रांत के एक नेता महमूद खान अचकजई ने शुक्रवार को बीबीसी से बातचीत में कहा कि इस मामले में पाकिस्तान को सबसे पहला यह कदम उठाना चाहिए कि वह इस क्षेत्र (गुलाम कश्मीर) से हट जाए। पखतूनख्वा मिल्ली अवामी पार्टी के नेता महमूद खान अचकजई ने कहा, 'हम कश्मीर पर एक नई नीति

मेवात के सिदरावट गांव में डिपो होल्डर से अपने हिस्से का राशन मांगने पर मारपीट का मामला सामने आया है। दरअसल, सिदरावट गांव के रहने वाले जाकिर ने डिपो होल्डर से अपने हिस्से का राशन देने की मांग की थी, जिससे तिलमिलाए डिपो धारक और उसके भाई ने जाकिर के साथ धक्कामुक्की की और उसे गाली देकर वहां भगा दिया। इससे आहत जाकिर ने घर जाकर जहर खा लिया और अपनी जान दे दी। बताया जा रहा है कि मृतक जाकिर के पांच बच्चे हैं, वो रेहड़ी चलाकर अपने परिवार का गुजारा कर रहा था। उधर, पुलिस ने पीड़ित परिजनों की

डेरा प्रमुख पर आने वाले फैसले के मद्देनजर सिरसा, कुरुक्षेत्र और गुरुग्राम के साथ कई शहरों में सुरक्षा व्यवस्था कड़ी की दी गई है और अतिरिक्त पुलिस बल को तैनात कर दिया गया है। इसके अलावा पुलिस के जवानों को उपद्रवियों से निपटने के लिए विशेष ट्रेनिंग भी दी जा रही है, ताकि किसी तरह की कोई मुश्किल सामने ना आने पाए। कुरुक्षेत्र, सिरसा और गुरुग्राम के पुलिस अधिकारियों का कहना है कि किसी को भी कानून हाथ में लेने नहीं दिया जाएगा। कुरुक्षेत्र में पुलिस की चार अतिरिक्त टुकड़ियों को तैनात किया गया है। इसके अलावा केंद्र सरकार से दस