यमुनानगर पुलिस की सीआईए वन टीम ने चार साल पहले हुई हत्या की गुत्थी को सुलझा लिया है। पुलिस ने हत्या के मामले में तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। जानकारी के मुताबिक, चार साल पहले बंसीलाल नाम का व्यक्ति संदिग्ध परिस्थितियों में लापता हो गया था, जिसका कोई सबूत ना मिलने पर पुलिस ने फाइल बंद कर दी थी, लेकिन हाईकोर्ट के निर्देश के बाद पुलिस ने दोबारा जांच शुरू की। जांच के बाद खुलासा हुआ है, बंसीलाल के साले ने ही अपने साथियों के साथ मिलकर हत्या की थी और बॉडी को खाई में फेंक दिया था। फिलहाल

करनाल के बस्तली  गांव में हत्या का एक सनसनीखेज मामला सामने आया है। यहां एक डेरे के पास मामूली बात को लेकर कैथल पुलिस में तैनात एएसआई ने अपने भाई पर ही गोलियां चला दी। इतना ही नहीं बेरहम पुलिसवाले ने बचाव के लिए आए भतीजे पर भी फायरिंग कर दी। इस फायरिंग में एएसआई के भाई की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि उसका भतीजा बुरी तरह से घायल हो गया, जिसे पास के अस्पताल में भर्ती कराया गया है। बताया जा रहा है कि मामला एएसआई की गाड़ी से भैंस टकराने से मामूली विवाद हो गया और ASI ने

बरनाला पुलिस ने 25 अगस्त को डेरा प्रमुख को दोषी ठहराए जाने के बाद हंडिया कस्बे के सेवा केंद्र में तोड़फोड़ और आगजनी करने वाले चार लोगों को गिरफ्तार किया है। ये चारों सेवा केंद्र हंडिया में तोड़-फोड़ कर आग लगाकर वहां से भाग निकल थे। पकड़े गए चारों आरोपियों ने खुलासा किया है कि इन्हें पहले से कहा गया गया था कि अगर फैसला डेरा प्रमुख के हक में नहीं आता तो सरकारी इमारतों पर धावा बोलना है। वहीं, पुलिस अब इन लोगों से अन्य आगजनी की घटना के बारे में पुछताछ कर रही है।

कुरूक्षेत्र में स्वाइन फ्लू के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं। अबतक यहां दस से ज्यादा स्वाइन फ्लू के संदिग्ध मामले सामने आ चुके हैं, जिनमें से पांच मरीजों में स्वाइन फ्लू की पुष्टि हो चुकी है। उधर, स्वाइन फ्लू के बढ़ते खतरे पर स्वास्थ्य विभाग ने भी सतर्कता बढ़ा दी है। सिविल सर्जन ने लोगों से स्वाइन फ्लू को लेकर सावधान और जागरूक रहने की अपील की, साथ ही इस वायरल बीमारी से बचने के लिए लोगों को एहतियात बरतने को भी कहा है।

हिमाचल के मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने आज दिल्ली में कांग्रेस पार्टी की अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात की। इस मुलाकात के दौरान सीएम वीरभद्र सिंह ने कई मुद्दों पर चर्चा की। आपको बता दें, कि वीरभद्र सिंह इस बार चुनाव लड़ेंगे या नहीं इसपर भी सस्पेंस बना हुआ है।

फाजिल्का पुलिस ने 25 अगस्त को हुई हिंसा के दौरान बस में आगजनी करने वाले दो डेरा प्रेमियों को गिरफ्तार किया है। पुलिस के मुताबिक दोनों डेरा प्रेमियों ने फाजिल्का बस स्टैंड पर खड़ी एक बस में आग लगाई और वहां से फरार हो गए। ये दोनों आरोपी सीसीटीवी फुटेज और अन्य सूत्रों से मिली पुख्ता जानकारी के बाद गिरफ्तार हुए हैं। इनमें से एक सदस्य डेरे का देखभाल करता था। पुलिस ने आगजनी के मामले में छह और अज्ञात लोगों के खिलाफ भी मामला दर्ज किया है। फिलहाल पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर आगे की कार्रवाई शुरू कर

अंबाला पुलिस ने डेरा प्रमुख की कुर्बानी ब्रिगेड के एक और सदस्य को गिरफ्तार किया है। कुर्बानी ब्रिगेड के सदस्य ने पुलिस के सामने कई राज खोले हैं। एडीजीपी आरसी मिश्रा ने बताया कि, डेरा प्रमुख ने हरियाणा में जगह-जगह कुर्बानी ब्रिागेड बनाई हुई थी, जिनका काम सिर्फ आंदोलन में कुर्बानी देना था। डेरा प्रमुख ने भोले-भाले लोगों को बेवकूफ बनाकर काफी पैसा भी जमा किया। फिलहाल पुलिस ने कुर्बानी ब्रिगेड के कई सदस्यों की लिस्ट बनाई है, जिनपर जल्द ही शिकंजा कसा जाएगा।

डेरे के समर्थक रहे भूपिंदर सिंह ने चंडीगढ़ में प्रेस कॉन्फ्रेंस की और बाबा राम रहीम पर कई आरोप लगाए। उन्होंने बताया कि डेरा सच्चा सौदा में करीब 15 हजार प्राइवेट सिक्योरिटी गार्ड हैं और उन सब के पास भारी मात्रा में हथियार हैं। साथ ही उन्होंने बताया कि बाबा की गोद ली हुई बेटी हनीप्रीत को एक साल पहले डेरा प्रभारी बनाए जाने से राम रहीम के परिवार में झगड़ा चल रहा था।

अंबाला पुलिस ने बलाना गांव स्थित डेरे के नामचर्चा घर में वीडियोग्राफी की, जहां से पुलिस ने दो लैंड रोवर गाड़ी बरामद की। प्रशासन ने दो दिन पहले नामचर्चा घर पर अपना ताला जड़ दिया था। अब पुलिस प्रशासन की तरफ से इसकी वीडियोग्राफी करवाई गई। इस दौरान पुलिस को लैंड रोवर गाड़ी के साथ एक दमकल की गाड़ी बरामद की। पुलिस के मुताबिक डेरा प्रमुख के लिए यहां पर आलीशान कमरा है, जिसमें एक आलीशान बैड रखा है, और किंग साईज कुर्सी सजाई गई है। वीडियो देखें