वीरभद्र सिंह DA केस: CBI के IO की गैर मौजूदगी की वजह से 31 अक्टूबर को अगली सुनवाई

हिमाचल प्रदेश के सीएम वीरभद्र सिंह आय से अधिक मामले में बुधवार को दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट में पेश हुए. सीएम के साथ में उनकी पत्नी प्रतिभा सिंह भी थी. बुधवार को वीरभद्र सिंह को सीबीआई ने सीएम की ओर से मांगे गए डॉक्यूमेंट मुहैया नहीं करवाएं.

इसके बाद पटियाला हाउस कोर्ट ने मामले की सुनवाई 31 अक्टूबर तक टाल दी. सीबीआई के तरफ से कोर्ट में दलील दी गई कि केस के जांच अधिकारी किसी और मामले में व्यस्त थे. लिहाजा, वह जरूरी कागजात फिलहाल उपलब्ध नहीं करवा सकते हैं. इसके बाद सीबीआई ने अगली तारीख की मांग की.

क्या है पूरा मामला
आपको बता दें कि 500 से ज्यादा पन्नों की चार्जसीट में दावा किया गया है कि वीरभद्र सिंह ने करोड़ों रुपये की संपत्ति अर्जित की, जो केंद्रीय मंत्री के तौर पर उनके कार्यकाल के दौरान उनकी कुल आमदनी से दोगुना अधिक है. वीरभद्र और अन्य लोगों के खिलाफ कथित अपराध के लिए भ्रष्टाचार रोकथाम कानून और आईपीसी की धारा 109 और 465 के तहत मामला दर्ज किया गया है. इस मामले में सीएम के अलावा उनकी पत्नी और बेटा भी आरोपी हैं.

Share With:
Rate This Article